उत्तरकाशी : डीएम के निर्देश पर सरकारी कार्यालयो मे छापा – पुरोला फिर गायब होने मे प्रथम

Share Now

औचक निरीक्षण में विभिन्न विभागों के करीब 93 अधिकारी/कर्मचारी रहे नदारद।

जिलाधिकारी ने अनुपस्थित सभी कार्मिकों के माह अक्टूबर की वेतन आहरण पर लगायी रोक।

       बृहस्पतिवार को मुख्य विकास अधिकारी श्री गौरव कुमार ने विकास भवन में संचालित कार्यालयों का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान कर्मचारियों में हड़कंप मच गया। सीडीओ ने जल संस्थान, सहकारिता,आरईएस,पशु विभाग,जिला विकास अधिकारी कार्यालय सहित कई कार्यालयों का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान अधिशासी अभियंता जल संस्थान अनुपस्थित पाए गए। ईई को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया। आरईएस में दो व जिला विकास अधिकारी कार्यालय में एक कार्मिक अनुपस्थित पाया गया। सभी कर्मियों को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया।
  एसडीएम भटवाड़ी चतर सिंह चौहान द्वारा भी तहसील भटवाड़ी का निरीक्षण किया गया। जिसमें खंड विकास अधिकारी कार्यालय में 7 कर्मचारी अनुपस्थित पाए गए। सभी के स्पष्टीकरण तलब किये गए है।
  उधर तहसील बड़कोट में एसडीएम शालिनी नेगी द्वारा कार्यालयों का औचक निरीक्षण किया गया। उन्होंने खंड विकास अधिकारी कार्यालय,सीएचसी,पीएचसी,बाल विकास विभाग,लघु सिंचाई विभाग समेत पूर्ति विभाग के खाद्य भंडार का निरीक्षण किया। जिसमें खंड विकास अधिकारी कार्यालय में 6,मनरेगा सेल में 10, आजीविका में 1,लघु सिंचाई में 2 कार्मिक अनुपस्थित पाए गए।

एसडीएम पुरोला सोहन सैनी ने कार्यालयों का औचक निरीक्षण किया। उन्होंने खंड विकास अधिकारी कार्यालय,पीएमजीएसवाई, लोनिवि, विद्युत वितरण उप खंड कार्यालय, जल संस्थान,राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान सहित अन्य विभागों का निरीक्षण किया गया।

    निरीक्षण के दौरान खंड विकास अधिकारी कार्यालय पुरोला में मनरेगा सेल के 4 अवर अभियंता व एक अनुसेवक अनुपस्थित पाए गाए। राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान में कार्यरत कुल 11 कार्मिकों में से एक कार्यशाला परिचारक व दो रात्रि चौकीदार को छोड़कर 8 कार्मिक अनुपस्थित पाए गए। जिसमें अनुदेशक 5,कार्यदेशक 1 सफाई नायक 1, अनुसेवक 1 कुल 8 कार्मिक अनुपस्थित पाए गए। जिनकी वेतन रोकने की संस्तुति की गई है। विद्युत विभाग में डेटा एंट्री आपरेटर एक व कार्यालय सहायक अनुपस्थित पाए गए। जल संस्थान के सहायक लेखाकार एक, कनिष्ठ सहायक तीन अनुपस्थित पाए गए। पीएमजीएसवाई के भी 8 कार्मिक अनुपस्थित पाए गए। जिसमें वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी सहित प्रधान सहायक एक और वरिष्ठ सहायक 4 एवं प्रारूपकार एक व वर्कन्दाज एक अनुपस्थित पाए गए। सभी कार्मिकों के जवाब तलब किए गए है। 


एसडीएम भटवाड़ी चतर सिंह चौहान द्वारा भी तहसील भटवाड़ी का निरीक्षण किया गया। जिसमें खंड विकास अधिकारी कार्यालय में 7 कर्मचारी अनुपस्थित पाए गए। सभी के स्पष्टीकरण तलब किये गए है।
उधर तहसील बड़कोट में एसडीएम शालिनी नेगी द्वारा कार्यालयों का औचक निरीक्षण किया गया। उन्होंने खंड विकास अधिकारी कार्यालय,सीएचसी,पीएचसी,बाल विकास विभाग,लघु सिंचाई विभाग समेत पूर्ति विभाग के खाद्य भंडार का भी निरीक्षण किया।

एसडीएम पुरोला सोहन सैनी ने कार्यालयों का औचक निरीक्षण किया। उन्होंने खंड विकास अधिकारी कार्यालय,पीएमजीएसवाई, लोनिवि, विद्युत वितरण उप खंड कार्यालय, जल संस्थान,राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान सहित अन्य विभागों का निरीक्षण किया गया।

    निरीक्षण के दौरान खंड विकास अधिकारी कार्यालय पुरोला में मनरेगा सेल के 4 अवर अभियंता व एक अनुसेवक अनुपस्थित पाए गाए। राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान में कार्यरत कुल 11 कार्मिकों में से एक कार्यशाला परिचारक व दो रात्रि चौकीदार को छोड़कर 8 कार्मिक अनुपस्थित पाए गए। जिसमें अनुदेशक 5,कार्यदेशक 1 सफाई नायक 1, अनुसेवक 1 कुल 8 कार्मिक अनुपस्थित पाए गए। जिनकी वेतन रोकने की संस्तुति की गई है। विद्युत विभाग में डेटा एंट्री आपरेटर एक व कार्यालय सहायक अनुपस्थित पाए गए। जल संस्थान के सहायक लेखाकार एक, कनिष्ठ सहायक तीन अनुपस्थित पाए गए। पीएमजीएसवाई के भी 8 कार्मिक अनुपस्थित पाए गए। जिसमें वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी सहित प्रधान सहायक एक और वरिष्ठ सहायक 4 एवं प्रारूपकार एक व वर्कन्दाज एक अनुपस्थित पाए गए। सभी कार्मिकों के जवाब तलब किए गए है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!