उत्तरकाशी : इंजीनियरिंग की पढ़ाई के बाद नशे का कारोबार करते युवा – 100 अन्य युवाओ का भविष्य दांव पर

Share Now

उत्तरकाशी : 10.48 ग्राम अवैध स्मैक के साथ दो युवक गिरफ्तार:

उत्तरकाशी पुलिस ने स्मैक जैसे खतरनाक नशे के साथ जिन दो युवाओ को गिरफ्तार किया है उनसे जो जानकारी मिली है उसे सुनकर आपके पैरो तले जमीन खिसक सकती है – सतर्क हो जाइए और ध्यान से सुनिए – स्मैक तस्करो के जाल मे अभी ताजा 100 नए युवा पढ़ाई करने वाले छात्र उत्तरकाशी नगर के आसपास से ही पाये गए है | आरोपियों के मोबाइल पर whatsapp चैट खँगालने के बाद पुलिस अधीक्षक उत्तरकाशी मणिकांत मिश्रा ने अभिभावकों से सतर्क होकर अपने बच्चो की निगरानी करने की अपील की है | उन्होने बताया कि पहली बार यह सुनकर अभिभावकों को बुरा लग सकता है उन्हे अपने बच्चे कि इस हरकत पर विश्वास भी नहीं होता और वह पहली बार पुलिस को सहयोग भी नहीं करना चाहते है किन्तु जब बात हद से आगे बढ़ जाये तब काफी देर हो चुकी होती है | उन्होने अपील कि है कि नशे के लक्षण मिलने पर बच्चो के साथ मारपीट करने के बजाय उन्हे नशा मुक्ति केन्द्रो मे भेजने का प्रयास करे |

नशे की दुनिया मे धकेल दिये गए युवाओ की कहानी

उत्तराखंड मे बेरोजगारी का आलम कहे या एकाकी परिवार से जन्मी मनोदशा – | नशे की काली अंधेरी दुनिया से जो नित्य नए राज खुलकर सामने आ रहे है वह आज के सभ्य समाज को एक बार फिर से अपनी दिनचर्या पर सोचने को मजबूर कर रहा है |

मामला उत्तरकाशी का है जहा स्मैक के नशा तस्करो ने इसके प्रसार के लिए आधुनिक तकनीकी का भी भरपूर उपयोग कर युवा पेढ़ी को बर्बाद करने मे कोई कोर कसर नहीं छोड़ी |

इंजीन्यरिंग करने के बाद स्मैक का व्यापार करते है युवा

उत्तरकाशी मे सिविल इंजीन्यरिंग करने के बाद संविदा मे लगे नौजवान भी खुद को इस अंधेरी दुनिया मे जाने से नहीं रोक पाये है | जी हाँ उत्तरकाशी जिले मे भूपेंद्र पँवार जो पीएमजीएसवाई विभाग मे तैनात है को पूर्व मे भी स्मैक के अवैध धंधे मे लिप्त पाये जाने पर विभाग द्वारा सस्पेंड किया जा चुका है, अब एक बार फिर से नशे के कारोबार मे पकड़ा गया है |

फ्री मे नशे की आदत डाल रहे है स्मैक तस्कर

राजधानी देहारादून से 3 हजार रु की एक ग्राम स्मैक खरीद कर लाने वाले ये बिचौलिए उत्तरकाशी मे इसकी अलग अलग बिट बनाकर 10 हजार रूपये मे बेचने का काम कर रहे थे | ग्राहको की संख्या बढ़ाने के लिए बाकायदा उन्हे सुरुवाती दिनो मे निशुल्क स्मैक उपलब्ध कराई जा रही थी बाद मे आदत पड़ जाने के बाद उनही से भरपाई की जा रही थी |

एक साथ 100 युवाओ को स्मैक बेच रहा था तस्कर

गिरफ्तारी के बाद मिले सबूतो को देखने के बाद पुलिस भी हैरान रह गयी | जब आरोपियों के मोबाइल खंगाले गए तो उसमे एक साथ 100 युवा बच्चो से चेटिंग मे नशे की खरीद फरोख्त की जानकारी प्रसारित की जा रही थी | उत्तरकाशी मे अमित कुमार और भूपेंद्र को आगे रखकर धन्दा चलाने वाला मास्टर माइंड देहरादून मे ऐसे दर्जनो रैकेट संचालित कर रहा है | सोसल मीडिया से मिली जानकारी के बाद पुलिस सभी श्रोतों से जानकारी जुटाने मे जुट गयी है  | जबकि दूसरा आरोपी अमित कुमार भी डिप्लोमा इंजीनियर बताया जा रहा है |

ऐसे हुआ मामले का खुलासा

विगत रात्रि मे कोतवाली उत्तरकाशी पुलिस व एसओजी उत्तरकाशी की संयुक्त टीम द्वारा चैकिंग अभियान  के दौरान दो युवकों भूपेन्द्र पंवार व अमित कुमार को क्रमशः 5.27 व 5.21 ग्राम (कुल 10.48 ग्राम) अवैध स्मैक के साथ गंगोत्री राजमार्ग पर सिंगल तिराहा विश्वनाथ मन्दिर जाने वाले मार्ग से गिरफ्तार किया गया। बरामदगी व गिरफ्तारी के आधार पर उक्त दोनो के विरुद्ध कोतवाली उत्तरकाशी पर NDPS Act की धारा 8/21 के तहत अभियोग पंजीकृत किया गया है। अग्रिम विधिक कार्रवाई प्रचलित है। प्राप्त जानकारी के अनुसार अभियुक्त भूपेन्द्र पंवार PMJSY में जेई (संविदा) के पद पर 2019 से कार्यरत है, मार्च 2021 में वह हरिद्वार में स्मैक के मामले में पकड़ा गया जिसमें वह वर्तमान में जमानत पर रिहा है। विभाग ने उक्त जेई को निलम्बित किया हुआ है। अभियुक्त अमित कुमार ने वर्ष 2017 में पॉलीटेक्निक किया है वह अपने दोस्त भूपेन्द्र के साथ स्मैक का अवैध कारोबार कर रहा था, अमित से जानकारी प्राप्त हुई कि यह लोग एक ग्राम स्मैक को देहरादून से 3000 रु0 में खरीद कर 10000 रु0 प्रति ग्राम के हिसाब से अलग-अलग बिट बनाकर उत्तरकाशी में बेचते हैं। पूछताछ में यह भी बताया गया कि पहले वह जानने वालों को फ्री में स्मैक देते हैं बाद में उन्ही के पैसो से स्मैक की खरीद फरोख्त करते हैं। इसके अलावा इनके मोबाईल से कई चौंकाने वाले तथ्य मिले हैं ये उत्तरकाशी में लगभग सौ लोगों को स्मैक सप्लाई करते थे जिनमें कई शिक्षित वर्ग के लोग सम्मलित हैं। कुछ पढने-लिखने वाले बच्चों के बारे में भी जानकारी प्राप्त हुई है, उनके माता पिता के साथ बच्चों की काउंसलिंग की जायेगी, जो आदतन स्मैक की खरीद फरोख्त में संलिप्त पाये जायेगें उनके विरुद्ध नियमानुसार विधिक कार्यवाही की जायेगी।

उक्त अभियुक्तों के द्वारा देहरादून से पार्सल बनाकर बस/टैक्सियों में स्मैक की सप्लाई की जानकारी भी प्राप्त हुई है जिस संबंध में बस व टैक्सी यूनियन के पदाधिकारियों से वार्ता कर आगे से संदिग्ध वाहनों में पार्सलों के बारे में रुटीन चैकिंग की जायेगी।

नाम पता गिरफ्तार अभियुक्त-

1-   भूपेन्द्र पंवार पुत्र कुशाल सिंह पंवार निवासी जलनिगम कॉलोनी गुफियारा कोतवाली उत्तरकाशी। स्थाई पता ग्राम कोटगा थाना लम्बगांव प्रतापनगर जनपद टिहरी गढवाल उम्र- 28 वर्ष।

2-   अमित कुमार पुत्र सुरेन्द्र कुमार निवासी PWD कॉलोनी उत्तरकाशी स्थाई पता ग्राम देहला थाना सहेतपुर जनपद उना हिमाचल प्रदेश उम्र 29 वर्ष।

बरामद माल- 10.48 ग्राम अवैध स्मैक ( अनुमानित कीमत 110000 रु.)

बरामदगी/गिरफ्तारी करने वाली पुलिस टीम-

1-   उ0नि0 तस्लीम आरीफ- कोतवाली उत्तरकाशी

2-   उ0नि0 वन्दना नेगी-कोतवाली उत्तरकाशी

3-   कानि0 मनोज प्रकाश-कोतवाली उत्तरकाशी

4-   कानि0 विजयपाल सजवाण- कोतवाली उत्तरकाशी

5-   कानि0 काशीष भट्ट- एसओजी उत्तरकाशी

6-   कानि0 पवन चौहान- एसओजी उत्तरकाशी

7-   कानि0 नरेन्द्र पुरी-एसओजी उत्तरकाशी

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!