उत्तरकाशी : टिश्यू कल्चर लैब से किसानों की आर्थिक स्थिति होगी मजबूत – डीएम मयूर दीक्षित

Share Now

जिलाधिकारी श्री मयूर दीक्षित ने शनिवार को नेताला में उद्यान विभाग द्वारा स्थापित टीशू कल्चर लैब (पादप संवर्द्धन प्रयोगशाला) में विभिन्न प्रजातियों के पौधों का निरीक्षण कर प्रयोगशाला में स्थित व्यवस्थाओं का जायजा लिया l

जिलाधिकारी ने मुख्य उद्यान अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि टीशू कल्चर लैब में विभिन्न प्रजातियों यथा फूल,फल एंव किसानों की मांग के अनुसार उन्नत प्रजाति के पौधों को तैयार किये जाए l ताकि किसानों को उन्नत किस्म की पौध मिल सकें। टिश्यू कल्चर लैब से जहां किसानों को उन्नत किस्म की पौध मिलेगी वहीं किसानों की आर्थिक स्थिति भी मजबूत होगी l जिलाधिकारी ने टिश्यू कल्चर लैब में परिपक्व पौधों के उत्पादन में विशेष तौर पर बेहतर प्रयास करने के निर्देश मुख्य उद्यान अधिकारी को दिए। उन्होंने टिशू कल्चर प्लांट संरचना के पोषक तत्व पौधों की कोशिकाओं ऊतकों या अंगों को बनाए रखने या विकसित करने के लिए उपयोग की जाने वाली तकनीकों का इस्तेमाल सही रूप से करने को कहा। ताकि किसानों को उन्नत किस्म की पौध उपलब्ध हो सके l साथ ही जिलाधिकारी ने लैब में चल रहें कार्यो की भी समीक्षा की।

इस दौरान मुख्य उद्यान अधिकारी द्वारा लैब में सेब एंव कीवी के उत्पादित हो रहे रूट – स्टॉक के पौधों की प्रगति से अवगत कराया गया । उन्होंने बताया कि कीवी के ऐसे रूट – स्टॉक की पौध तैयार की जा रही है जो रोगमुक्त होगें। तथा कम ऊंचाई वाले क्षेत्रों में उत्पादित होने वाली सेब की प्रजातियों को तैयार किया जा रहा है। साथ ही कीवी की हेवार्ड , एलीसन , ब्रुनो आदि प्रजाति एंव सेब की एम -7 रूट स्टॉक की पौध भी तैयार की जा रही है।

निरीक्षण के दौरान मुख्य उद्यान अधिकारी डॉ रजनीश सिंह,सहायक जिला उद्यान अधिकारी एनके सिंह, लैब प्रभारी श्रीपाल सिंह उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!