उत्तरकाशी – केदारकांठा ट्रेक पर रास्ता भटक गए दो युवक – दो दिन बाद बचाव दल को मूर्छित अवस्था मे मिले

Share Now

करीब 48 घण्टे के सर्च/रेस्क्यू के बाद केदारकाण्ठा ट्रेक पर भटके 02 लोगों को पुलिस ने सुरक्षित हॉस्पिटल पहुंचायाः-

परिजनो व ट्रेकरों ने पुलिस का किया धन्यबाद

विकासनगर निवासी 05 सदस्य दल सांकरी से केदारकांठा हेतु रवाना हुआ था। 15 अक्तूबर को यह दल बेस कैम्प स्टे के बाद केदार कान्ठा से नीचे उतरे, नीचे उतरते समय इनमें से 03 लोग आगे आ गये तथा 02 लोग शुभम गैरोला व महेन्द्र तोमर पीछे रह गये तथा रास्ता भटक गये। 16 अक्तूबर को भी जब दोनों नीचे नही पहुचें तो साथियों द्वारा इसकी सूचना फोन पर थानाध्यक्ष मोरी को दी | सूचना पर थानाध्यक्ष मोरी द्वारा उक्त की तलाशी हेतु एक पुलिस टीम रवाना की गयी उक्त पुलिस टीम के द्वारा काफी तलाशी करने पर भी 16अक्तूबर को उक्त दोनों लोगों का पता नही चल पाया न ही पुलिस टीम से सम्पर्क हो पाया रेस्क्यू/सर्च अभियान को जारी रखते हुये श्री केदार सिंह चौहान, थानाध्यक्ष मोरी द्वारा पुनः 17 अक्टूबर की प्रातः में उक्त दोनों के परिजनों, सांकरी व सौड़ गांव के चौकीदारों व स्थानीय लोगों को साथ लेकर 04 अलग-2 रेस्क्यू टीमें गठित कर आपदा उपकरणों के साथ सर्च अभियान हेतु रवाना हुये, तालाशी करते हुये सांकरी से करीब डेड घण्टा आगे चढने के बाद उक्त दोनों लोग जंगल में बहुत ही नाजुक स्थिति मे मिले उनके पास न तो खाने को कुछ था और न ही रहने के लिये स्लिपिंग बैग आदि सामग्री थी दोनो की बॉडी का काफी डिहाईड्रेशन हो गया था व दोनों म्रुक्षित अवस्था मे पडे थे रेस्क्यू टीमों द्वारा त्वरित कार्यवाही करते हुये दोनों को प्राथमिक उपचार देने के उपरान्त कन्धे का साहरा देते हुये सांकरी पहुचाया गया जहां पर थानाध्यक्ष मोरी दावारा सूझबूझ का परिचय देते हुये एंबुलेंस का इन्तजार न कर बिना किसी देरी के दोनो को पुलिस के वाहन मे बिठाकर मोरी लाकर हॉस्पिटलाईज करवाया गया। दोनो की हालात मे थोड़ा सुधार आने के बाद उन्हें सीएचसी नौगांव लाया गया जहां पर दोनो का उपचार चल रहा है, चिकित्सक द्वारा बताया गया कि दोनों को उपचार दिया जा रहा है यदि कोई प्रतिकूल स्तिथि होती है तो उन्हें हायर मेडिकल सेन्टर रेफर किया जायेगा। उक्त दोनो लड़को व उनके परिजनों द्वारा पुलिस का धन्यबाद ज्ञापित किया गया।

थानाध्यक्ष मोरी द्वारा बताया गया कि स्थानीय निवासी विजय द्वारा रेस्क्यू में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई गयी।

सर्च/रेस्क्यू करने वाली टीमः-
1- उप0नि0 केदार सिंह चौहान- थानाध्यक्ष मोरी
2- कानि0 हंसराज- थाना मोरी
3- कानि0 संजय असवाल- थाना मोरी
4- कानि0 लायवर सिंह- थाना मोरी
5- कानि0 महादेव- थाना मोरी
6- कानि0 राजेश राणा- थाना मोरी
7- पीआरडी किशन- थाना मोरी|

श्रीमान पुलिस अधीक्षक उत्तरकाशी महोदय द्वारा रेस्क्यू टीम की सराहना करते हुये टीम को 1000 रु0 के नगद पुरुस्कार से पुरस्कृत करने की घोषणा की गई, साथ ही रेस्क्यू में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले स्थानीय लोगों को पुलिस द्वारा पुरुस्कृत किया जायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!