जलसंस्थान के अधिकारियों ने विधानसभा अध्यक्ष से की भेंट

Share Now

ऋषिकेश। जल संस्थान के अधीक्षण अभियंता के पद पर पदोन्नत होने के बाद आज नमित रमोला ने उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल से शिष्टाचार भेंट की। वहीं जल संस्थान ऋषिकेश अनुरक्षण खंड में अधिशासी अभियंता के पद पर कार्यभार संभालने के बाद एपी सिंह ने भी विधानसभा अध्यक्ष से भेंटवार्ता की। इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष ने दोनों अधिकारियों को अपनी शुभकामनाएं दी।
विधानसभा अध्यक्ष के बैराज स्थित कैंप कार्यालय में जल संस्थान विभाग के अधीक्षण अभियंता नमित रमोला एवं अधिशासी अभियंता एपी सिंह ने पदोन्नत होने के बाद नई जिम्मेदारी मिलने पर विधानसभा अध्यक्ष से भेंट की। इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष ने अधिकारियों से ऋषिकेश विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत निर्माणाधीन पेयजल योजनाओं की प्रगति के संबंध में समीक्षा  की वहीं क्षेत्र में प्रस्तावित योजनाओं पर चर्चा भी की। बैठक के दौरान विधानसभा अध्यक्ष ने प्रतीतनगर रायवाला क्षेत्र में 18 करोड़ रुपये लागत एवं खदरी खड़कमाफ में 10 करोड़ रुपये की लागत की पेयजल योजना की प्रगति से संबंधित आख्या अधिकारियों से ली।इस दौरान श्री अग्रवाल ने कुंभ निधि से ऋषिकेश क्षेत्र में स्वीकृत पेयजल योजनाओं से हो रहे विकास कार्यों को लेकर जल संस्थान के अधिकारियों से जानकारी प्राप्त की।
इस दौरान श्री अग्रवाल ने जल जीवन मिशन के अंतर्गत हर घर नल से जल के तहत डोईवाला ब्लॉक में प्रारंभ होने वाले कार्य की प्रगति से संबंधित विषय पर अधिकारियों से चर्चा की। विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि श्यामपुर मंडल सहित खैरीकला, गढ़ी मयचक, गुमानीवाला, हरिपुरकला, छिद्दरवाला, साहबनगर प्रतीत नगर, रायवाला खांड, रायवाला, भट्टूोवाला, गौहरीमाफी, खड़कमाफ  सहित विभिन्न ग्रामीण क्षेत्रों  के प्रत्येक घर को  पेयजल कनेक्शन से जोड़ा जाएगा। कहा कि इस योजना से प्रत्येक घर को स्वच्छ पानी की जलापूर्ति होगी। बैठक के दौरान विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि उनका प्रयास है कि 2022 तक ऋषिकेश विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों के  प्रत्येक घर तक नल एवं जल आपूर्ति  सुनिश्चित हो, जिसके लिए अधिकारी पूर्ण कर्तव्यनिष्ठा के साथ योजनाओं को संचालित करने एवं तय समय सीमा पर निर्माण कार्यों को पूर्ण करने के लिए अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!