नुकसान होने के बाद ही क्यों जागती है उत्तराखंड सरकारः आप

Share Now

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी द्वारा उत्तराखंड अधीनस्थ चयन सेवा आयोग परीक्षा में घपले की शिकायत मामले में जांच के आदेश देने वाली बात पर आम आदमी पार्टी के गढ़वाल मीडिया प्रभारी रविंद्र सिंह आनंद में तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहां की उत्तराखंड सरकार जब तक कोई बड़ा नुकसान ना हो उससे पहले नहीं जागती है।
श्री आनंद ने कहा कि इससे पूर्व भी यदि हम इतिहास उठाकर देख ले तो जितनी भी परीक्षाएं आयोजित की गई चाहे वह लोक सेवा आयोग की हो यह किसी अन्य भर्ती की पेपर लीक आम बात हो गई है इसके बाद भी प्रदेश के साइबर सिक्योरिटी सेल या अन्य विभाग द्वारा कोई प्रतिक्रिया नहीं व्यक्त की गई नाही इस पर ठोस कार्यवाही ना होती दिखाई दी है।
श्री आनंद ने कहा कि ने कहा कि यह डिजिटल युग है और हमें अधिक सतर्कता बरतने की जरूरत है आज हमें हर कदम फूंक-फूंक के रखने की जरूरत है जब हमें यह पता है कि पर्चे लीक होना आम बात होती जा रही है यूनिवर्सिटीज में भी परीक्षा के पर्चे लीक होना आज आम बात हो गई है तो ऐसे में हमारी सरकार को भी हाईटेक होने की जरूरत है और हमें इस बात का भी ध्यान रखना होगा कि बार-बार पर्चे लीक होने की वजह से आवेदकों को खांसी परेशानी का सामना करना पड़ता है कई बार देखने में आया है कि आवेदन करता का यह आवेदन का आखरी साल होता है और पर्चा लीक होने की वजह से प्रक्रिया आगे खिसका दी जाती है और उसका वह साल बर्बाद हो जाता है ऐसे में सरकार को चाहिए कि वह कोई ठोस कदम उठाएं और जल्द से जल्द इसका कोई निष्कर्ष निकाले।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!