कोरोना के बाद ऋषिकेश की सैर पर सपरिवार गुलदार – खौफ

Share Now

खदरी क्षेत्र में गुलदार को पकड़ने के लिए लगाया पिंजरा|

कोरोना काल मे जहा पलायन से खाली हो चुके उत्तराखंड के पहाड़ प्रवासियों की  वापसी से गुलजार है, वही जंगल के हिंसक प्राणी आजकल आबादी वाले क्षेत्रो का सपरिवार दौरा करने निकाल पड़े है | शावको के साथ गुलदार और अधिक हिंसक हो जाते है, जिसके बाद खौफजदा लोगो के आक्रोश  को देखते हुए वन  विभाग ने मौके पर पिंजरा लगा दिया है  

ऋषिकेश। ग्राम सभा खदरी खड़क माफ के  प्रगति पुरम कॉलोनी वार्ड नं 14 व गुलजार फार्म में गन्ने के खेतों में अबादी वाले क्षेत्र में बार बार दस्तक दे रहा गुलदार को शावकों  के साथ पकड़ने के लिए वन विभाग टीम ने पिंजरा लगाया।

   ग्राम सभा खदरी खड़क माफ में गुलदार का खौफ इन दिनों सर चढ़कर बोल रहा है, क्षेत्र में विगत 15 दिनों से लगातार क्षेत्र में दस्तक दे रहा, जिससे ग्रामीणों में डर का अभाव बना हुआ है।

  इससे पूर्व वन विभाग रेंज ऋषिकेश की टीम के द्वारा गुलदार प्रभावित क्षेत्र का निरीक्षण भी किया गया, जिससे गुलदार के पंजों के निशान मिले,क्षेत्र की सुरक्षा के लिए वन विभाग व समाजिक कार्यकर्ता क्षेत्र में गश्त लगाते है।

 क्षेत्र की सुरक्षा के लिए क्षेत्र पंचायत सदस्य बीना चौहान ने वन क्षेत्राधिकारी एमएस रावत को इस संदर्भ में 16 जुलाई को ज्ञापन सौंपा था जिसमें क्षेत्र में पिंजरा लगाने की मांग की थी।

वन विभाग रेंज ने इस समस्या को गंभीरता से लेकर बुधवार को क्षेत्र में गुलदार को पकड़ने के लिए पिंजरा लगाया है।

समाजिक कार्यकर्ता नवीन नेगी ने बताया  कि आबादी ‌ वाले क्षेत्र में गुलदार बार बार शावकों के साथ दिखने से ग्रामीणों में दहशत मची हुई है, जिसके बाद क्षेत्र में गुलदार को पकड़ने के लिए पिंजरा लगाया गया है।

मौके पर उपस्थित क्षेत्र पंचायत सदस्य बीना चौहान, लक्ष्मण चौहान, वार्ड मेंबर राजेंद्र चौहान, लक्ष्मण राणा, समाजसेवी विनोद चौहान, नवीन नेगी ,अनिल रावत, फतेह पाल ,स्वयं दत्त,कंडवाल व वन विभाग की टीम आदि मौजूद रही ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!