तबादलों का फैसला पलटने का विशेष अधिकार सीएम कोः नरेश बंसल

Share Now

श्रीनगर। राज्यसभा सांसद नरेश बंसल अपने एक दिवसीय भ्रमण पर श्रीनगर पहुंचे। यहां उन्होंने भाजपा द्वारा आयोजित प्रभुत्वगण सम्मलेन में हिसा लिया। इस दौरान उन्होंने कहा कि प्रदेश में भाजपा सरकार विकास के लिए कार्य कर रही है। पुष्कर सिंह धामी के नेतृत्व में सरकार जीरो टोलरेंस की नीति पर आगे बढ़ रही है, जिसके नतीजे के कारण पेपर लीक मामले में 40 से अधिक लोग जेल की हवा खा रहे हैं। उन्होंने कहा कि किसी भी व्यक्ति को घोटाले में बख्शा नहीं जाएगा।
नरेस बंसल ने कहा कि यह पूरा महीना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिवस को सेवा सप्ताह के रूप में मना रहा है, जिसको लेकर प्रदेश भर में युवा ब्लड डोनेशन से लेकर तमाम सेवा का कार्य कर रहे हैं। यह कार्यक्रम दो अक्टूबर तक किया जाएगा। उन्होंने कहा कि इन कार्यक्रमों के जरिए लोगों में सेवा भाव को बढ़ाना है।.उन्होंने कहा कि कांग्रेस पूरे देश में यही बोलती है कि सीबीआई केंद्र सरकार के इशारे पर कार्य करती है लेकिन पेपर लीक मामले में सीबीआई की मांग कर रही है, जो बताता है कि कांग्रेस किस तरह दोहरा चरित्र रखती है। उन्होंने कहा कि एसटीएफ अच्छा कार्य कर रही है। ऐसे में जरूरत नहीं पड़ रही है कि सीबीआई जांच की जाए। सभी लोगों पर समान कार्रवाई की जाएगी।
बंसल ने कैबिनेट मंत्री प्रेमचंद अग्रवाल के तबादला मामले में कहा कि मुख्य्मंत्री को लगा होगा कि मंत्री ने गलत निर्णय लिया है, तो उन्होंने अपने विशेष अधिकार से मंत्री के फैसले को बदला है। इसमें कोई बड़ी बात नहीं है। उन्होंने कहा कि ये एक सामान्य बात है। सरकार में इस तरह के निर्णय लिए जाते रहे हैं और आगे भी लिए जाएंगे। इस दौरान कार्यक्रम में पूर्व राज्य मंत्री अतर सिंह असवाल, जिलाध्यक्ष सम्पत सिंह रावत भी मौजूद रहे। जानकारी के अनुसार 17 सितंबर देर रात शहरी विकास मंत्री प्रेमचंद अग्रवाल के शहरी विकास विभाग में 74 लोगों के ट्रांसफर की लिस्ट तैयार की गई थी। ट्रांसफर की इस लिस्ट पर मंजूरी देने के बाद सुबह होते ही शहरी विकास मंत्री प्रेमचंद अग्रवाल जर्मनी के लिए रवाना हो गए। लेकिन मंत्री अग्रवाल के जर्मनी के लिए उड़ान भरने से कुछ देर बाद ही मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने यह फैसला पलट दिया और तत्काल प्रभाव से इन तबादलों को निरस्त कर दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!