‘महंगाई पर हल्ला बोल’ महारैली की तैयारियों में जुटी कांग्रेस

Share Now

देहरादून। देशभर में आसमान छूती महंगाई, बढ़ती बेरोजगारी एवं मोदी सरकार की जन विरोधी नीतियों के खिलाफ अखिल भारतीय कंाग्रेस कमेटी के आह्रवान पर 4 सितम्बर को नई दिल्ली के रामलीला मैदान में आयोजित होने वाली ‘‘महंगाई पर हल्ला बोल’’ महारैली की तैयारी हेतु आज प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में प्रदेश अध्यक्ष करन माहरा की अध्यक्षता में कांग्रेस पार्टी के जिला, शहर अध्यक्षों, अनुषांगिक संगठन, विभाग एवं प्रकोष्ठ के अध्यक्षों की आवश्यक बैठक आहुत की गई। प्रदेश कांग्रेस कमेटी के मीडिया सलाहकार अमरजीत सिंह ने कहा कि कंाग्रेस पार्टी द्वारा अपने को आम आदमी से सम्बद्ध करते हुए उसके हकों की लडाई के लिए 4 सितम्बर को नई दिल्ली के रामलीला मैदान में ‘‘मंहगाई पर हल्ला बोल’’ महारैली का आयोजन किया है इसकी तैयारी हेतु आज प्रदेश अध्यक्ष करन माहरा की अध्यक्षता में यह बैठक आयोजित की गई है।
बैठक को संबोधित करते हुए प्रदेश अध्यक्ष करन माहरा ने कांग्रेसजनों से बडी संख्या में दिल्ली चलो का आह्रवान करते हुए कहा कि आज देश में मंहगाई अपने चरम पर पहुंच गई है, गरीब को दो जून की रोटी के लिए संघर्ष करना पड रहा है वहीं दूसरी ओर देश में बेरोजगारी महामारी की भांति पैर पसार चुकी है। ऊपर से केन्द्र की मोदी सरकार द्वारा आम आदमी की आवश्यकता की वस्तुओं पर जीएसटी लगाकर जनता की कमर तोडने का काम किया जा रहा है। कांग्रेस पार्टी सदैव गरीब के साथ खडी रही है तथा उसकी जरूरतों को महसूस करती है। कांग्रेस पार्टी के शीर्ष नेतृत्व ने लगातार बढती मंहगाई व बेरोजगारी के खिलाफ 4 सितम्बर को नई दिल्ली के रामलीला मैदान में पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी के नेतृत्व में ‘‘मंहगाई पर हल्ला बोल’’ महारैली का आयोजन किया है जिसमें उत्तराखण्ड राज्य से अधिक से अधिक संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ताओं को प्रतिभाग करना है।
करन माहरा ने कहा कि आज जरूरत की सभी चीजें फल, सब्जी, दालें दुगने दाम पर मिल रहे हैं। पेट्रोल, डीजल व रसोई गैस के बेतहाशा बढते दाम आम आदमी का जीना दूभर कर रहे हैं। भाजपा की केन्द्र व राज्य सरकारें मंहगाई पर काबू पाने में असफल साबित हुई हैं। रसोई गैस सिलेण्डर के दाम इतने बढ चुके हैं कि गरीब आदमी के घर का चूल्हा बुझने की कगार पर है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सहित सभी भाजपा नेताओं ने अपनी सभी चुनावी जनसभाओं में मंहगाई कम करने का ढिढोरा पीटते थे परन्तु उनके 8 साल के कार्यकाल में मंहगाई अपने चरम पर पहुंच गई है तथा आम आदमी उसके बोझ को सहन करने में असमर्थ हो गया है। प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि पार्टी द्वारा पूरे प्रदेश में जिला, महानगर, ब्लाक व नगर स्तर पर मुख्य सार्वजनिक स्थानों में चैपाल के माध्यम से ‘‘मंहगाई पर चर्चा’’ कार्यक्रम आयोजित कर जनता को भाजपा सरकार की नाकामियों से अवगत कराने के साथ ही आसमान छूती मंहगाई से आम आदमी की पहुंच से दूर होती जरूरी सामान की कमीतों, सुरसा के मुंह की भांति बढ़ती बेरोजगारी तथा मोदी सरकार की जन विरोधी नीतियों को जनता के बीच ले जाने का काम करेगी तथा आम जनता से इन बिन्दुओं पर चर्चा करेगी।
प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय, राजीव भवन में 4 सितंबर को रामलीला मैदान, दिल्ली में महंगाई के विरोध में होने वाली मंहगाई पर हल्ला बोल महारैली की तैयारी बैठक में नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य, पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत, पूर्व अध्यक्ष प्रीतम सिंह, पूर्व अध्यक्ष गणेश गोदियाल, उप नेता प्रतिपक्ष भुवन कापडी, पूर्व राष्ट्रीय सचिव प्रकाश जोशी, महामंत्री संगठन विजय सारस्वत, विधायक रवि बहादुर, राजेंद्र भंडारी, विक्रम नेगी, गोपाल राणा, पूर्व विधायक शैलेंद्र रावत, ललित फरस्वान, मनोज रावत, जयेंद्र रमोला,एआईसीसी सदस्य चमन सिंह, संजय पालीवाल, गरिमा दसोनी, महेश शर्मा, धीरेन्द्र प्रताप, सरोजनी कैन्तूरा, पी.के. अग्रवाल, अमरजीत सिंह, याकूब सिद्धिकी, राजपाल खरोला, ताहिर अली, नवीन जोशी, ममता हल्धार, हरिकृष्ण भट्ट, मनीष नागपाल, राकेश नेगी, जिला अध्यक्ष लोकमणि पाठक, विरेन्द्र रावत, महानगर कार्यकारी अध्यक्ष जसविंदर सिंह गोगी, अश्विनी बहुगुणा, महन्त विनय सारस्वत, सुधीर राय, संजय अग्रवाल, धर्मपाल, कलीम खान, राहुल छिमवाल, सतीश नैनवाल, अनुषांगिक संगठनों के मोहन भण्डारी, सुशील राठी, डाॅ0 प्रदीप जोशी, सत्येन्द्र सिंह पंवार, अनिल बसनेत, मोहित उनियाल, अनिल बसनेत, आचार्य नरेशानन्द नौटियाल, आशीस सैनी, डाॅ0 गणेश उपाध्याय, शांति रावत, सुहेल अहमद सिद्धिकी, मयंक भट्ट, मदन मोहन शर्मा, बालेश्वर सिंह, प्रदीप डोभाल, प्रकाश रावत, ठाकुर सिह राणा आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!