स्मार्ट सिटी के निर्माण कार्यों से जनता को हो रही परेशानी को लेकर कांग्रेसी डीएम से मिले

Share Now

देहरादून। देहरादून महानगर कांग्रेस पदाधिकारियों ने प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह के नेतृत्व में जिलाधिकारी देहरादून से उनके कैम्प कार्यालय में मुलाकात कर देहरादून महानगर में स्मार्ट सिटी के नाम पर हो रहे निर्माण कार्यों से जनता को हो रही परेशानी से अवगत कराते हुए ज्ञापन प्रेषित कर जनता की समस्याओं का निराकरण करवाये जाने का अनुरोध किया

प्रीतम सिंह ने जिलाधिकारी को अवगत कराया कि देहरादून शहर में चल रहे स्मार्ट सिटी के कार्य से जनता को आए-दिन परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। स्मार्ट सिटी कार्य चलने  से समस्याएं और बढ़ती जा रही हैं। उन्होंने कहा कि देहरादून महानगर में वर्तमान में स्मार्ट सिटी के निर्माण कार्य प्रगति पर हैं जिसके चलते सीवर लाईन, पेयजल लाईन, सडकों व नालियों के निर्माण से आवागमन में जगह-जगह अवरोध उत्पन्न हो रहा है।
सीवर लाईनों की खुदाई के कारण सीवर का गन्दा पानी सडकों पर फैल रहा है तथा कहीं कहीं लोगों के घरों में घुस रहा है। उन्होंने यह भी कहा कि सड़कों की खुदाई के कारण धूल उडने से लोगों के स्वास्थ्य पर भी प्रभाव पड रहा है। प्रतिनिधिमण्डल ने अवगत कराया कि एमकेपी रोड़, सुभाष रोड़, न्यू रोड़, आराघर, हरिद्वार रोड़, डालनवाला क्षेत्र, राजपुर रोड क्षेत्र में सडकों की खुदाई की गई परन्तु पैचप वर्क नहीं हो पाया है तथा आये दिन दुर्घटनायें घटित हो रही हैं। जगह-जगह खुदाई के कारण धूल-मिट्टी से लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है और साथ ही स्वास्थ्य समस्याएं भी बढ़ती जा रही है इसलिए सभी खुदाई क्षेत्रों में  पानी का लगातार छिड़काव किया जाए और इन्हें शीघ्र पैच किया जाए तथा साथ ही जहां-जहां खुदाई चल रही है वहां ट्राफिक पुलिस की संख्या बढ़ाई जाए ताकि ट्राफिक जाम व वाहन  दुर्घटना कम हो सके। उन्होंने कहा कि सीवर व पानी की लाईने टूटने के कारण इसे ठीक ठंग से रिपर्यर नहीं किया जा रहा है, सिर्फ पाईपों में टयूब बांध कर काम चलाया जा रहा है, जिससे सीवर व पानी की लाईनें मिल जाने के कारण लागों के घरों में गन्दा पानी जा रहा है और लोगों को बिमारी से जुझना पड़ रहा है तथा खुदाई में लाईनें टूटने के कारण डालनवाला व कई स्थानों में पानी नहीं आ रहा है इसे शीघ्र ठीक किया जाए। कई क्षेत्रों में खुदाई के कारण सीवर लाइनें व पानी की लाइनें टूट चुकी हैं जो जनता के लिए परेशानी खड़ी कर रही है और कई क्षेत्रों में पहले से ही पानी की लाइनें डली हुई हैं लेकिन वहां फिर से लाइन डाली जा रही है जो की सरकार एवं जनता के पैसों की बर्बादी है तथा खुदाई क्षेत्रों को बिना ठीक किए ऐसे ही रख दिया गया है जो कि  जनता  की परेशानियों को और बढ़ा रहा है। उन्होंने कहा कि कई जगह जहां पर सड़कों के किनारे फुटपाथ के साथ पैदल चलने के लिए बनाया गया था जिनकी टाइले बिल्कुल ठीक-ठाक थी उनपे नई टाइले लगाने का कार्य चल रहा है जिसकी कोई आवश्यकता नहीं थी, यह जनता के पैसों की बर्बादी है। प्रीतम सिंह ने यह भी अवगत कराया कि अतिक्रमण के दौरान की गई तोडफोड के उपरान्त न तो सडकों पर फैला मलवा हटवाया गया और न ही बिद्युत पोल हटवाये गये जिससे स्थिति जस की तस बनी हुई है तथा महानगर का यातायात लगातार बाधित हो रहा है। उन्होंने ज्ञापन में यह भी सुझाव दिया कि स्मार्ट सिटी का कार्य जल संस्थान, जल निगम, नगर निगम, पीडब्लूडी, एमडीडीए के साथ तालमेल बिठा कर किया जाए ताकि जनता को ओर परेशानियों का सामना ना करना पडे। प्रतिनिधिमण्डल में प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह के अलावा पूर्व विधायक राजकुमार, महानगर अध्यक्ष लालचन्द शर्मा, जिलाध्यक्ष संजय किशोर, प्रदेश सचिव राजेश शर्मा, मंजुला तोमर, व्यापार प्रकोष्ठ महानगर अध्यक्ष सुनील बांगा, संदीप जैन, शेखर कपूर, बलराज भांमरी आदि शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!