केदार सिह भण्डारी की गुमशुदगी की जांच को एसआईटी गठित करने की मांग

Share Now

देहरादून। उत्तराखण्ड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष करन माहरा ने जिला उत्तरकाशी की पट्टी गांजणा के ग्राम चौडियाट गांव निवासी केदार सिंह भण्डारी पुत्र लक्ष्मण सिंह की गुमशुदगी के सम्बन्ध में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को पत्र लिखकर मामले की जांच हेतु एसआईटी का गठन करने का आग्रह किया है।
करन माहरा ने मुख्यमंत्री को लिखे पत्र में कहा कि केदार सिंह 18 अगस्त को सेना भर्ती में शामिल होने कोटद्वार गये थे जहां से 21 अगसत को कोटद्वार से तपोवन लक्ष्मण झूला टिहरी गढ़वाल के लिए निकले थे। 22 अगस्त, 2022 को तपोवन पुलिस द्वारा लक्ष्मण सिंह के दूसरे पुत्र को दूरभाष पर सूचना दी गई कि केदार सिंह पुलिस चौकी तपोवन में बन्द हैं। पारिवारिक सदस्यों द्वारा तपोवन पहुंचकर पुलिस से केदार सिंह के बारे में पूछताछ की गई तो उन्होंने इस नाम के किसी भी व्यक्ति के चौकी में बन्द होने से मना कर दिया गया। इसके उपरान्त लक्ष्मणझूला पुलिस द्वारा उन्हें सूचना दी गई कि केदार सिंह गंगा में कूद गया है जिसका कोई पता नहीं चल पा रहा है इससे केदार सिंह भण्डारी के परिजनों के मन में भी किसी अनहोनी की आशंका घर कर गई है। उन्होंने कहा कि स्थानीय पुलिस द्वारा केदार सिह की गुमशुदगी की रिपोर्ट लिखने में की जा रही हीला-हवाली तथा आम आदमी की सुरक्षा को लेकर राज्य पुलिस की कार्यप्रणाली से ऐसा प्रतीत हो रहा है कि राज्य में कानून का राज समाप्त हो गया है। करन माहरा ने केदार सिह भण्डारी की गुमशुदगी की जांच के लिए सक्षम अधिकारी के नेतृत्व में एसआईटी का गठन किये जाने की मांग की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!