BREAKING NEWS

Warning: Invalid argument supplied for foreach() in /home/ynnuz434tjy2/public_html/meruraibar.com/wp-content/themes/nanomag/news-ticker.php on line 15

32 मृतक आश्रितों को विवेकाधीन कोष से चेक वितरित किए

86

ऋषिकेश। विधानसभा अध्यक्ष प्रेम चंद अग्रवाल ने बैराज रोड स्थित कैंप कार्यालय पर कोरोना के दौरान 32 मृतक आश्रितों को विधानसभा अध्यक्ष विवेकाधीन कोष से एवं अनेक लाभार्थियों को मुख्यमंत्री राहत कोष से ₹ सात लाख के चेक वितरित किए। चेक वितरण के अवसर पश्री अग्रवाल ने कहा है कि कोरोना काल के दौरान अनेक लोगों की असमय मृत्यु हुई है ऐसे लोगों को सरकार द्वारा वात्सल्य योजना के तहत लाभ पहुंचाया जा रहा है।
     उन्होंने कहा है कि ऋषिकेश विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत अनेक ऐसे लोग हैं जिनके कोरोना के दौरान मृत्यु हुई है उन्हें विधानसभा अध्यक्ष विवेकाधीन कोष से आर्थिक सहायता दी गई है । ताकि वह अपने परिवार का भरण पोषण कर सकें । श्री अग्रवाल ने कहा है कि जिन परिवारों में कोरोना के दौरान मृत्यु हुई है उनके साथ सरकार एक स्तंभ के रूप में खड़ी है। उन्होंने कहा है कि सरकार हर प्रकार से सहयोग करने के लिए तैयार है। इस अवसर पर श्री अग्रवाल ने कहा है कि कोरोना अभी समाप्त नहीं हुआ इसलिए स्वयं की सतर्कता, जागरूकता व सुरक्षा फिर भी आवश्यक है।
     श्री अग्रवाल ने अपने संबोधन में कहा है कि भले ही सरकार व विधानसभा अध्यक्ष विवेकाधीन कोष से जरूरतमंदों को आर्थिक सहायता उपलब्ध कराई जा रही है परंतु प्रत्येक व्यक्ति को स्वाबलंबन व स्वरोजगार के साथ  खड़े होने की आवश्यकता है। श्री अग्रवाल ने कहा है कि विधानसभा अध्यक्ष का विवेकाधीन कोष कोई सरकारी योजना नहीं है बल्कि स्वयं के विवेक के आधार पर आर्थिक रूप से जरूरतमंद, कमजोर वर्ग दिव्यांग, विधवा को यह धनराशि उपलब्ध कराई जाती है ताकि वह समाज की मुख्यधारा से जुड़ सकें। इस अवसर पर श्यामपुर मंडल के अध्यक्ष गणेश रावत, राज्य आंदोलनकारी कमला नेगी, ए.के मजूमदार,  सुरेंद्र सिंह रावत सरदार मंगा सिंह, प्रधान चमन पोखरियाल लाभार्थियों में सावित्री देवी, कुसुम रानी, सविता देवी, रुकमणी कैंतूरा, पुष्पा रानी आदि सहित अनेक लोग उपस्थित थे कार्यक्रम का संचालन भारतीय जनता पार्टी  वीरभद्र मंडल की महामंत्री सुंदरी कंडवाल ने किया।




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!