BREAKING NEWS

Warning: Invalid argument supplied for foreach() in /home/ynnuz434tjy2/public_html/meruraibar.com/wp-content/themes/nanomag/news-ticker.php on line 15

मंत्री धन सिंह ने क श्रीनगर विधानसभा क्षेत्र के निर्माण कार्यों की समीक्षा

68

देहरादून। श्रीनगर विधानसभा क्षेत्र में अधूरे पड़े विभिन्न निर्माण कार्यों को शीघ्र पूरा करने, मोटर मार्गों का नवीनीकरण एवं खराब सड़कों को गड्डा मुक्त करने के निर्देश अधिकारियों को दिये।  विडोलगाड़, पाबौं एवं कण्डारस्यूं पम्पिंग योजना की टेण्डर प्रक्रिया में तेजी लाने एवं भीड़ा-हंस्यूड़ी पेयजल योजना की जल्द ईएफसी करने के निर्देश भी अधिकारियों को दिये। कोरोना काल के दौरान जिन गांवों में प्रवासियों की घर वापसी हुई ऐसे गांवों के विद्यालयों को पुनः संचालित करने एवं क्षतिग्रस्त विद्यालयों के भवनों के जीर्णाेद्धार करने को भी अधिकारियों को कहा


कैबिनेट मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने आज सचिवालय स्थित डीएमएमसी सभागार में श्रीनगर विधानसभा क्षेत्र विभाग की समीक्षा बैठक ली। बैठक में लोक निर्माण विभाग, पेयजल निगम, जल संस्थान, पर्यटन एवं विद्यालयी शिक्षा के अधिकारी मौजूद रहे। बैठक में डॉ. रावत ने अपनी विधानसभा क्षेत्र में अधूरे पड़े विभिन्न निर्माण कार्यों को यथाशीघ्र पूरा करने के निर्देश अधिकारियों को दिये। उन्होंने लोक निर्माण विभाग के अंतर्गत समैया, जगतपुरी, उफरैंखाल, सराईंखेत, बूंगीधार-उफरैंखाल मोटर मार्ग का शीघ्र नवीनीकरण प्राथमिकता के आधार पर किये जाने के निर्देश अधिकारियों को दिये। डॉ. रावत ने अधिकारियों को स्यूंसाल एवं गंगाऊ मोटर मार्ग का निर्माण कार्य शीघ्र शुरू करने एवं क्षेत्र की तमाम क्षतिग्रस्त सड़कों को गड्डा मुक्त बनाने को भी कहा। कैबिनेट मंत्री डॉ. रावत ने क्षेत्र की पेयजल सुविधा की समीक्षा करते हुए अधिकारियों को विडोलगाड़, पाबौं एवं कण्डारस्यूं पम्पिंग योजना की टेण्डर प्रक्रिया में तेजी लाने एवं भीड़ा-हंस्यूड़ी पेयजल योजना की जल्द ईएफसी करने को कहा, उन्होंने एनआईटी सुमाड़ी पेयजल योजना को शासन स्तर पर शीघ्र निस्तारित करने के निर्देश भी दिये। डॉ. रावत ने कहा कि श्रीनगर विधानसभा क्षेत्र में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने श्रीनगर-धारीदेवी-देवालगढ़-खिर्सू-क्यूंकालेश्वर-पौड़ी पर्यटन सर्किट के प्रस्ताव को मंजूरी दी है जिसेकी जल्द डीपीआर बनाने के निर्देश अधिकारियों को दे दिये हैं। डॉ. रावत ने कहा कि कोरोना काल के दौरान सैकड़ों प्रवासी अपने गांव लौटें हैं, ऐसे गांवों में बंद पड़ चुके विद्यालयों को खुलवाने के निर्देश अधिकारियों को दे दिये हैं। उन्होंने कहा कि थलीसैंण एवं पाबौं विकासखण्ड में खण्डतल्ला, सपलोड़ी एवं धारकोट में विद्यालयों को पुनः खोला जायेगा। इसके साथ ही थलीसैंण विकासखंड के अंतर्गत डुंगरी तल्ली, मुसेटी एवं देवलों में क्षतिग्रस्त विद्यालय भवनों का जीर्णाेद्धार किया जायेगा, जिसके निर्देश शिक्षा विभाग के अधिकारियों को दे दिये गये हैं। उन्होंने कहा कि क्षतिग्रसत भवनों के जीर्णाेद्धार के लिए धन की कमी अड़े नहीं आयेगी। बैठक में सचिव लोक निर्माण विभाग आर. के. सुधांशु, महाप्रबंधक पेयजल निगम रकमपाल सिंह, निदेशक बेसिक शिक्षा आर.के. उनियाल, अपर निदेशक पर्यटन पूनम चंद, सचिव अप्रेजल एवं अधिशासी अभियंता जल संस्थान मनीष सेमवाल, अनुभाग अधिकारी पर्यटन वंदना असवाल सहित अन्य विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!