डीएम ने ली राजस्व विभाग की बैठक, लंबित वादों को निस्तारित करें

Share Now

टिहरी। जिलाधिकारी इवा आशीष श्रीवास्तव ने जिला सभागार नई टिहरी में राजस्व की मासिक स्टाफ समीक्षा बैठक ली। जिलाधिकारी ने बैठक में क्रमवार राजस्व, रेगुलर पुलिस, पूर्ति विभाग, आबकारी विभाग, आपदा प्रबन्धन, दैवीय आपदा, राजस्व वसूली, विवादित वाद आदि के तहत अद्यावधि तक की गई कार्यवाही एवं उपलब्धि पर चर्चा करते हुए संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने परिवहन अधिकारी को निर्देशित किया कि ओवर स्पीड, ओवल लोडिंग, तेज रफ्तार, नशा करके वाहन का संचालन आदि अभियोग में नियमित चेकिंग करने तथा चालान में प्रगति लाना सुनिश्चित करंे। जिला आबकारी अधिकारी को निर्देशित किया गया कि सभी दुकानों का निरीक्षण करें तथा छापामारी, वाहन चैकिंग, गिरफ्तारी के प्रकरणों में प्रगति लाना सुनिश्चित करें। साथ ही घनसाली एवं चम्बा में साप्ताहिक बन्दी की जांच भी करवायें। जनपद के सभी उप जिला मजिस्ट्रेट द्वारा तहसील स्तर पर लगाई गई कोर्ट, दायर वाद, निस्तारित वाद की जानकारी लेते हुए नियमित कोर्ट लगाने तथा 05 साल अधिक लम्बित वादों को प्राथमिकता पर लक्ष्य निर्धारित कर निस्तारित करने के निर्देश दिये गये। सभी उपजिलाधिकारियों को निर्देशित किया गया कि तहसील स्तर पर स्टॉफ बैठक भी करते रहें।
जिलाधिकारी ने क्रमवार समीक्षा करते हुए पुलिस विभाग से मोटर अधिनियम के तहत किये चालान एवं राजस्व पुलिस से हस्तान्तरित मामलों की जानकारी लेते हुए चालान बढाने को कहा। आबकारी विभाग से छापों, पकड़ी गई लीकर, अभियोग, विस्थापित राजस्व की जानकारी ली गई। अधीनस्थ न्यायालय में रिहा हुए वादों की जानकारी लेते हुए निर्देश दिये गये कि जिन मामलों में रिपोर्ट नहीं मिल पाती है, उनकी मॉनिटरिंग करें। राजस्व वसूली की समीक्षा करते हुए निर्देशित किया गया कि 10 बडे़ बकाया देनदारों की सूची एवं लम्बित प्रकरणों का विवरण उपलब्ध करायें तथा नोटिस बोर्ड पर चस्पा करें। आपदा प्रभावित परिवारों को दी जा रही धनराशि की प्रगति की जानकारी लेते हुए निर्देशित किया गया कि जिन परिवारों के घर बनते जा रहे हैं, उन्हें तत्काल तीसरी किश्त देना सुनिश्चित करें। आरवीएनएल के तहत प्रतिकर धनराशि कैम्प लगाकर बांटने के निर्देश दिये गये। कहा कि शमन तामिल में चल-अचल सम्पत्ति का विवरण सही हो, इस संबंध में पटवारियोंके साथ बैठक कर लें। इसके साथ ही जिला पूर्ति अधिकारी से खाद्यान्न उठान की स्थिति की जानकारी ली गई।
मुख्य विकास अधिकारी नमामि बंसल ने कहा कि अवस्थापना के प्रकरण में आपत्ति प्राप्त हुई है तहसील प्रतापनगर एंव टिहरी अवमुक्त धनराशि की रिवाईस रिपोर्ट उपलब्ध करा दें। अपर जिलाधिकारी रामजी शरण ने कहा कि यदि तहसील स्तर पर चतुर्थ श्रेणी के पद रिक्त हों, तो सूची उपलब्ध करा दें, ताकि शासन के दिशा-निर्देशानुसार आउटसोर्स के माध्यम से पदों को भरा जा सके। बैठक में फौजदारी वाद, राजस्व पुलिस में लम्बित वाद, पटवारी चैकी, ऑडिट आपत्ति, आपदा न्यूनीकरण, सन्दर्भ, शिकायत प्रकोष्ठ, सीएम हेल्पलाइन आदि पर भी चर्चा की गई। बैठक में एएसपी राजन सिंह, एसडीएम टिहरी अपूर्वा सिंह, नरेन्द्रनगर देवेन्द्र सिंह, घनसाली के.एन. गोस्वामी, देवप्रयाग सोनिया पन्त, प्रतापनगर प्रेमलाल, एआरटीओ चक्रपाणि मिश्रा, डीएसओ अरूण वर्मा सहित समस्त तहसीलदार, कानूनगो, कार्यालय पटल सहायक उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!