उत्तरकाशी : पर्यटन क्षेत्र में स्वरोजगार को जोड़ने के लिए सेल्फ हेल्प संस्था देहरादून का प्रयास

Share Now


सिक्योर हिमालय परियोजना के तहत इकोटूरिज्म कार्यक्रम को कार्यदायी संस्था सेल्फ हेल्प देहरादून की टीम गांव गांव पहुंच कर लोगों को जागरूक करने के साथ पर्यटन को विकसित करने के उद्देश्य से परियोजना से जुडे़ 14 गांव में कर रही जैव पर्यटन विकास समिति का गठन।

गंगोत्री सिक्योर बहुउद्देशीय स्वायत सहकारिता के संयुक्त सचिव इकोटूरिज्म सन्दीप राणा ने बताया कि इस मुहिम को गिडारा बुग्याल के बेस कैम्प भंगेली गांव से शुरु किया गया है जहां लोगों को पर्यटन के क्षेत्र में सामने आ रहे विकल्प से अवगत करवाने के साथ गांव की संस्कृति और धरोहर को किस प्रकार से पर्यटकों के बीच प्रस्तुत किया जा सकता है जो एक आकर्षण का केंद्र बन कर लोगों के स्वरोजगार का माध्यम बन सके।


सोमवार तक सिक्योर हिमालय परियोजना से जुड़े भंगेली, तिहार, हुर्री, भुक्की गांव में जैव पर्यटन विकास समिति का गठन किया जा चुका है शीघ्र ही अन्य 10 गांव में भी समिति का गठन किया जायेगा।
सेल्फ हेल्प संस्था देहरादून का यह उद्देश्य है कि लोगों को पर्यटन के क्षेत्र में स्वरोजगार से जोड़ा जाये लोगों का मार्गदर्शन करके क्षेत्र में जो भी पर्यटन के विकल्प हैं खास तौर पर क्षेत्र के बुग्यालों को विकसित किया जाये इन बुग्यालों के मार्गों को विकसित किया जाये ताकि पर्यटक आसानी से इन बुग्यालों तक पहुंच सके इस कार्य को गांव में लोगों के बीच जाकर सेल्फ हेल्प संस्था के श्री सत्या रावत जी, श्री मनीष रावत जी और सन्दीप राणा लोगों को जागरूक करने के प्रयास के साथ उनका मार्गदर्शन कर रहे हैं आने वाले समय में निश्चित ही क्षेत्र में इसका लाभ देखने को मिलेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!