प्रत्येक गर्भवती महिला का संस्थागत प्रसव कराया जायः डीएम

Share Now

टिहरी। जिलाधिकारी टिहरी गढ़वाल डॉ. सौरभ गहरवार की अध्यक्षता में जिला सभागार टिहरी गढ़वाल में मातृ मृत्यु से संबंधित बैठक आयोजित की गई। जिलाधिकारी द्वारा मृतका प्रियंका देवी, जी ब्लॉक, चम्बा नई टिहरी के डिलीवरी केस में जांच समिति गठित कर 15 दिन के अन्दर बिन्दुवार रिपोर्ट उपलब्ध कराने के निर्देश दिये गये। जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि सभी एएनएम प्रसव कराने में दक्ष होती हैं, उनका रोस्टर बनाकर अपने समक्ष उनसे नॉर्मल डिलीवरी करवाना सुनिश्चित करें। कहा कि जितनी अधिक उनको जानकारी होगी, उतना उनको काम करने में मजा आयेगा। सभी एएनएम को निर्देशित किया गया कि प्रत्येक गर्भवती महिला का संस्थागत प्रसव कराया जाय तथा गर्भावस्था के दौरान प्रतिदिन गर्भवती महिला की जांच कर रजिस्टर बनाना सुनिश्चित करें और आगामी बैठक में रजिस्टर लाना सुनिश्चित करें। मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देशित किया कि सभी दाईयों को 15 दिन के अन्दर प्रशिक्षण देना सुनिश्चित करें।
बैठक में मुख्य चिकित्सा अधिकारी टिहरी गढ़वाल द्वारा अवगत कराया गया कि जनपद में अपै्रल, 2022 से नवम्बर, 2022 तक मातृ मृत्यु के 05 केस हुए हैं। जिलाधिकारी द्वारा सभी केस की फाईलों की बारीक से जांच की गई तथा संबंधित के परिजनों के बयान भी सुने गये। जिलाधिकारी ने मृतका प्रियंका देवी, जी ब्लॉक, चम्बा नई टिहरी के डिलीवरी केस फाइल में कुछ दस्तावेज संलग्न न होने तथा परिजनों के बयान के आधार पर जांच समिति गठित कर 15 दिन के अन्दर रिपोर्ट उपलब्ध कराने के निर्देश दिये गये। प्रियंका देवी की मृत्यु एक निजि अस्पताल चम्बा में हुई थी। जिलाधिकारी ने जांच समिति को निर्देशित किया कि आज ही डॉक्टर एवं परिजनों के लिखित में बयान लेना सुनिश्चित करें, किसी को जांच के लिए बुलाया जाना हो तो बुला सकते है, केस से संबंधित सभी दस्तावेजों का बारीकी से जांच कर बिन्दुवार रिपोर्ट बनाना सुनिश्चित करें।
वहीं मृतका रेखा देवी ब्लॉक भिलंगना की डिलीवरी केस फाईल का अध्ययन करने पर पाया गया कि घर से अस्पताल लगभग 55 किमी दूर होने, 108 के वाहन चालक को जानकारी होने के बावजूद अस्पताल को अवगत न कराया जाना तथा एएनएम को न बताकर घर पर ही दाई पर भरोसा किया जाना है। जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देशित किया कि 108 आपातकालीन के वाहन चालक का स्पष्टीकरण तलब करने के साथ ही 108 के हैड ऑफिस को पत्र प्रेषित करना सुनिश्चित करें। मृतका भारती देवी ग्राम पंडोगी ब्लॉक थौलधार के केस में प्रसव के समय परिजनों द्वारा निर्णय लेने में देरी की गई, पाया गया। मृतका अमिता देवी विकासखण्ड थौलधार का संस्थागत प्रसव के उपरान्त उच्च रक्तचाप के कारण मृत्यु हुई। मृतका पुष्पा देवी विकासखण्ड जाखणीधार के केस में बैठक में किसी परिजन के उपस्थित न होने के कारण पुष्टि नहीं हो पाई, इस पर जिलाधिकारी ने संबंधित अधिकारी को निर्देशित कि फाइल में एएनएम द्वारा लिखित रिपोर्ट भी लगाना सुनिश्चित करें। मुख्य चिकित्सा अधिकारी टिहरी गढ़वाल डॉ. संजय जैन ने बताया कि यहां की भौगोलिक परिस्थियों को देखते हुए मृत्यु दर रोकने तथा बेहतर स्वास्थ्य सुविधा हेतु मानकों में शिथिलीकरण किया जाना चाहिए। बैठक में एसीएमओ एनएचएम डॉ. अमित राय, निश्चेतक एसडीएन नरेन्द्रनगर डॉ. शिवानी रमोला, स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ. तुलसी बिष्ट, प्रभारी चिकित्साधिकारी सा.स्वा.के. छाम डॉ. धमेेन्द्र उनियाल, सा.स्वा.के. चम्बा डा. पुखराज सिंह, एलएमओ सीएचसी चम्बा डॉ. सायमा अलीम सहित एएनएम उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!