हरिद्वार : सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर हटाया अवैध अतिक्रमण, विरोध और हंगामा

Share Now

-कुंभ समाप्त होने पर बड़े पैमाने पर किया जा रहा था अवैध अतिक्रमण प्रशासन ने भारी पुलिस फोर्स की तैनाती कर अतिक्रमण हटाया साधु-संतों से हुई तीखी नोकझोंक।

सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर हरिद्वार के बैरागी कैम्प में किये गए अवैध निर्माण को प्रशासन की टीम ने ध्वस्त कर दिया कार्रवाई करने पहुँची प्रशासन की टीम को साधु संत के विरोध का सामना भी करना पड़ा कुम्भ मेले के दौरान हरिद्वार के बैरागी कैम्प में निर्मोही, दिगम्बर और निर्वाणी तीनो बैरागी अखाड़ों के साधु संतों ने पक्के अवैध निर्माण खड़े कर लिए थे जिस पर आज प्रशासन ने बड़ी कार्रवाई की इस दौरान मौके पर भारी पुलिस बल की तैनाती की गई थी और प्रशासन ने साधु संतों की एक न सुनी और अवैध निर्माण पर जमकर जेसीबी बरसाई

–कार्रवाई के दौरान साधु संत उग्र हो गए और ऐसी स्थिति उत्पन्न हो गई कि अधिकारियों को बीच में कई बार कार्रवाई रोकनी पड़ी निर्मोही अखाड़े के अध्यक्ष ने प्रशासन की इस कार्रवाई को गलत ठहराया और बैरागी कैंप में ही कई जगह अवैध निर्माण पर कार्रवाई न होने पर सवाल भी खड़े किए

राजेन्द्र दास–अध्यक्ष निर्मोही अखाड़ा

-वही डिप्टी मेला अधिकारी अंशुल सिंह ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर अवैध निर्माण की कार्रवाई की गई है बैरागी कैम्प में अभी और भी कई अवैध निर्माण है, साधु संतों के साथ सामंजस्य बनाकर आगे भी इस तरह की कार्रवाई की जाएगी।

अंशुल सिंह, डिप्टी कलेक्टर, हरिद्वार

-कुंभ मेला समाप्त होते ही बैरागी के तीनों अखाड़ों द्वारा बैरागी कैंप में अवैध निर्माण कराया जा रहा था मगर शासन और प्रशासन द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की जा रही थी बैरागी कैंप में हो रहे अवैध निर्माण पर लगातार दबाव बनने के बाद आज हरिद्वार प्रशासन द्वारा इस अवैध अतिक्रमण को हटाने का अभियान चलाया गया और भारी संख्या में पुलिस बल भी तैनात किया गया मगर देखना होगा बाकी बचे अवैध अतिक्रमण को शासन और प्रशासन कब तक हटा पाता है क्योंकि बैरागी अखाड़ों के संतों ने शासन और प्रशासन पर आरोप लगाए हैं कि उनके द्वारा सिर्फ साधु-संतों के ही अतिक्रमण को हटाया गया बाकी अतिक्रमण अभी भी वैसा का वैसा ही है

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!