हरिद्वार – आकाश बायजू के हर्षवर्धन ने जेईई मेन में 99.70 प्रतिशत अंक हासिल किये

Share Now

हरिद्वार। हरिद्वार के आकाश बायजूस के छात्र हर्षवर्धन ने संयुक्त प्रवेश परीक्षा (जेईई) मेन 2022 के पहले सत्र में 99.21 पर्सेंटाइल हासिल किया, जो उनके माता-पिता और संस्थान के पूरे स्टाफ की खुशी के लिए था। हर्षवर्धन दुनिया की सबसे कठिन प्रवेश परीक्षा माने जाने वाले आईआईटी जेईई को क्रैक करने के लिए 2020 में दो साल के क्लासरूम प्रोग्राम में आकाश बायजूस में शामिल हुए। उन्होंने जेईई में टॉप पर्सेंटाइल की सूची में अपने प्रवेश का श्रेय अवधारणाओं को समझने के अपने प्रयासों और अपने सीखने के कार्यक्रम के सख्त पालन को दिया। उन्होने कहा – मैं आभारी हूं कि आकाश बायजू ने मुझे संस्थान से सामग्री और कोचिंग दोनों में मदद की है, अन्यथा मैं कम समय में विभिन्न विषयों में कई अवधारणाओं को समझ नहीं पाता।
हर्षवर्धन को बधाई देते हुए, आकाश बायजू के प्रबंध निदेशक आकाश चौधरी ने कहा कि हम हर्षवर्धन को उनके अनुकरणीय उपलब्धि के लिए बधाई देते हैं। देशभर से जेईईमेन 2022 के पहले सत्र के लिए 9 लाख से अधिक छात्रों ने पंजीकरण कराया। एक शीर्ष पर्सेंटाइल स्कोरर के रूप में उनकी उपलब्धि उनकी कड़ी मेहनत और समर्पण को दर्शाती है। हम उनके भविष्य के प्रयासों के लिए उन्हें शुभकामनाएं देते हैं। उन्होंने आगे कहा कि महामारी के कारण प्रभावित एकेडमिक वर्ष में छात्रों को जेईई में टॉप पर्सेटाइल पाने में सक्षम बनाने के लिए आकाश बायजूस ने अतिरिक्त प्रयास किया। हमने अपनी डिजिटल प्रजेंस को बढ़ाने की दिशा में काम किया, जिससे हम हमेशा अपने छात्रों के लिए उपस्थित रह सकें। हमें स्टडी मैटेरियल और क्वेश्चन बैंक को ऑनलाइन उपलब्ध कराया। हमने वर्चुअल माध्यम से कई मोटिवेशनल सेशन और सेमिनार भी आयोजित किए, जिससे छात्रों को परीक्षा की तैयारी और टाइम मैनेजमेंट स्किल में मदद मिली। यह देखना सुखद एहसास है कि हमारे प्रयास सफल रहे और यह स्कोर शीट में हमारे छात्रों के प्रदर्शन से स्पष्ट है। इनमें से बहुत से छात्र उच्च शिक्षा के लिए अपनी पसंद के टॉप आईआईटी या एनआईटी या सरकारी इंजीनियरिंग कॉलेज में प्रवेश पाएंगे। छात्रों को अपना स्कोर सुधारने का मौका देने के लिए जेईई (मेन) दो सत्रों में आयोजित किया जाता है। जहां जेईई एडवांस्ड केवल इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (आईआईटी) में प्रवेश के लिए होता है, वहीं जेईई मेन से कई नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (एनआईटी) और देश के अन्य सरकारी व सरकार से सहायता प्राप्त इंजीनियरिंग कॉलेज में प्रवेश का मौका मिलता है। जेईई एडवांस्ड में बैठने के लिए जेईई मेन पास करना अनिवार्य होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!