राजधानी की तलाश में हरीश रावत, गैरसैण से सीएम त्रिवेन्द्र को लगाई आवाज,

Share Now

अगस्त क्रांति की 78 वी वर्षगांठ पर गैरसैंण के रामलीला मैदान में कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव व पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने तिरंगा फहरा कर क्विट इंडिया मूमेन्ट को याद करते हुए कहा कि गैरसैंण को ग्रीष्म कालीन राजधानी घोषित किये 4 माह का समय बीत गया है किंतु अभी किसी प्रकार से प्रतीत नहीं हो रहा है कि सरकार द्वारा गैरसैंण को राजधानी का दर्जा दिया गया है।

कहा गया कि प्रदेस के किसी भी क्षेत्र में इस बात के संकेत नहीं मिलते हैं कि गैरसैंण के भराड़ीसैण में सूबे की राजधानी है। 4 महीनों में कहीं कोई बोर्ड नहीं, कोई पट्ट नहीं चस्पा कर सके हैं जिससे सरकार की मानसिकता को सहज ही समझी जा सकती है। पार्टी में गटबाजी को नकारते हुए उन्होंने कहा कि लोकतांत्रिक ब्यवस्था के तहत पार्टी कार्यकर्ता अपनी बात को रखने के लिए स्वतंत्र है जिसे भाजपा गुटबाजी का नाम दे रही है। पूर्व विधान सभा अध्यक्ष गोविंद सिंह कुंजवाल ने कहा कि 3 वर्षों में सरकार ने राजधनी को लेकर कोईकाम नहीं किया अलबत्ता ग्रीष्मकालीन राजधानी की घोषणा कर महज जनता को बरगलाया है। पूर्व डिप्टी स्पीकर अनसूया प्रसाद मैखुरी ने कहा कि जो भी कार्य कांग्रेस सरकार में सुरु किये थे आज भी वहीं अटके पड़े हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!