ओंम पर्वत बनेगा पाँचवाँ धाम – नेपाल बार्डर पर धारचूला पहुची छड़ी यात्रा

Share Now

-जिला पिथोरागढ़ के धारचूला पहुंची पवित्र छड़ी यात्रा । ओम पर्वत को पांचवां धाम बनाना। उद्देश्य ।

रिपोर्ट नदीम परवेज़ धारचूला पिथोरागढ़

महामंडलेश्वर स्वामी वीरेंद्रान्नद महाराज ओर अंतरराष्ट्रीय सभापति प्रेम गिरी महाराज के नेतृत्व में छड़ी यात्रा आज धारचूला सीमांत तिब्बत नेपाल बोर्डर में पहुंची ।
पवित्र छड़ यात्रा का स्थानीय नागरिकों ने भव्य स्वागत किया । गांधी चोक धारचूला में छड़ी यात्रा से आते साधू संतो ने गांधी जी की मूर्ती पर पुष्प अर्पित किए। छड़ी यात्रा के साधू-संतों ने जोलजीबी के ज्वालेशवर महादेव मंदिर में भी पूजा अर्चना कि गयी है ।
छड़ी यात्रा के मुख्य अतिथि अंतरराष्ट्रीय सभापति प्रेम गिरी महाराज ने चौक में लोगों को सम्बोधित किया और कहा की सनातन धर्म को बोर्डर में हो रही घुसपैठ से बचाना है।

साथ ही हर व्यक्ति को सनातन धर्म को आगे बढ़ाने में मदद करने की आवश्यकता नहीं है ।

महामंडलेश्वर स्वामी वीरेंद्रान्नद महाराज ने कहा कि भारत में रहने वाला हर व्यक्ति सनातनी है । ओर सनातन धर्म का उद्देश्य सब को लेकर चलना है ।आपस में भाई चारा , प्यार देश के प्रति निष्ठा आदी ही सनातन धर्म का उद्देश्य है । धारचूला की जनता को‌ छडी यात्रा के स्वागत के लिए साधुवाद है।ओर छड़ी का मुख्य उद्देश्य ओम पर्वत को पांचवां धाम बनाने में सफल होना पवित्र छड़ी का उद्देश्य है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!