एटलस से दौड़ेगी हिमालयन हॉस्पिटल की ऑक्सीजन – फ्लाई ओवर से कुछ साँस जिन्दगी की

Share Now

डोईलाला में कोविड 19 के मरीजों को अब नहीं होगी ऑक्सीजन की कमी।

 हाई वे निर्माण कर रही कंपनी एटलस ने बनाया ऑक्सीजन प्लांट के लिए बनाया ओवेवेन।

डोईवाला।

कोविड 19 के बढ़ते मामलों को देखते हुए अब सड़क और फ्लाई ओवर निर्माण करने वाली कम्पनी एटलस भी जनसेवा के लिए आगे आई है।

एनएचएआई के दिशा निर्देश के बाद डोईवाला में हाई वे सड़क और फ्लाई निर्माण दाई संस्था एटलस कंपनी के एमडी आनंद प्रताप सिंह और  कंपनी के एचआर हेड ऑफिसर लोकेश देशवाल ने जोली ग्रांट में स्थित हिमालयन हॉस्पिटल में मात्र 24 घंटे के भीतर दिन रात मेहनत करके ऑक्सीजन प्लांट के लिए ढांचा  स्थापित किया है। इस तैयार शेड में डीआरडीओ ऑक्सीजन प्लांट स्थापित होने के  बाद ऑक्सीजन का उत्पादन शुरू हो जाएगा ये ऑक्सीजन हिमालयन हॉस्पिटल को दी जाएगी जहां कोविड के भर्ती मरीजों के इलाज में काम आयेगी।

हिमालयन हॉस्पिटल में अलग से कोविड हॉस्पिटल बनाया गया है जिसमे राज्य के मरीजों का इलाज चल रहा है।

एटलस कंपनी के एचआर हेड ऑफिसर लोकेश देशवाल ने जानकारी देते हुए बताया की वर्तमान समय में कोरोना वायरस संक्रमण बहुत तेजी से लोगों को अपनी चपेट में ले रहा है हॉस्पिटल भी कोविड के मरीजों से पटे पड़े है और ऑक्सीजन की भी कमी से मरीज जूझ रहे हैं। ऐसे हालात में एनएचएआई के प्रोजेक्ट निदेशक पंकज मौर्य के दिशा निर्देश पर हमारी कंपनी एटलस के एमडी आनंद प्रताप सिंह भी जन सेवा के लिए आगे आए और हमे दिशा निर्देश दिए की ऑक्सीजन प्लांट के लिए एक शेड का निर्माण राज्य के सबसे बड़े हॉस्पिटल हिमालयन हॉस्पिटल में किया जाए ताकि डीआरडीओ अब वहां बहुत जल्दी ऑक्सीजन प्लांट स्थापित कर हॉस्पिटल को ऑक्सीजन की सप्लाई शुरू कर देगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!