होमस्टे भवन निर्माण में पहाड़ी थीम – पारंपरिक काष्ट व पठाल शैली से रूबरू होंगे विदेशी पर्यटक – डीएम

Share Now

हल्द्वानी – पर्यटन विभाग द्वारा आयोजित वीर चंद्र सिंह गढ़वाली पर्यटन स्वरोजगार योजना एवं दीनदयाल उपाध्याय गृह आवास होमस्टे विकास योजना के अंतर्गत चयनित आवेदकों के साक्षात्कार हेतु ज़िला चयन समिति की बैठक कैम्प कार्यालय हल्द्वानी में आयोजित की गई। बैठक की अध्यक्षता करते हुए जिलाधिकारी धीराज सिंह गर्ब्याल ने कहा कि होमस्टे योजना व गैर वाहन मद के अंतर्गत भवन निर्माण में पहाड़ी थीम अर्थात पारंपरिक काष्ट व पठाल शैली का प्रयोग किया जाय। इससे पहाड़ी परम्परा से देश विदेश के पर्यटक रूबरू हो सकेंगे व उत्तराखंड को अपनी विशिष्ट पहचान मिलेगी। जिलाधिकारी ने पर्यटन अधिकारी बृजेन्द्र पांडेय को निर्देशित किया कि भविष्य में योजना के अंतर्गत आवेदन करने वाले आवेदकों की पत्रावलियों को समस्त दस्तावेजों के साथ पूर्ण कर सबंधित बैंकों को प्रेषित किया जाय। कहा कि आवेदकों को अनावश्यक बैंक व विभाग के चक्कर न लगने पड़े, इसका लीड बैंक अधिकारी व पर्यटन अधिकारी विशेष ध्यान रखे।
वीर चंद्र सिंह गढ़वाली पर्यटन स्वरोजगार योजना में वाहन मद के अन्तर्गत 09 आवेदक, गैर वाहन मद में 02 आवेदक व दीनदयाल उपाध्याय गृह आवास होम स्टे विकास योजना के अंतर्गत 02 आवेदकों के द्वारा आवेदन किया गया था जिन्हें आज जिला अनुश्रवण समिति के सम्मुख प्रस्तुत किया गया। उक्त आवेदन पत्रों का निरीक्षण एवं परीक्षण करने के उपरांत समिति द्वारा वाहन मद में 08, गैर वाहन मद में 02 एवं होम स्टे योजना के अंतर्गत 02 आवेदकों के आवेदन को वित्त पोषण हेतु योजना के अंतर्गत चयन किया गया। जिलाधिकारी ने इन पत्रावलियों को संबंधित बैंक शाखाओ को वित पोषण हेतु तत्काल भेजे जाने के निर्देश पर्यटन अधिकारी को दिए।
बैठक में लीड बैंक अधिकारी बी एस चौहान, महाप्रबंधक उद्योग विपिन कुमार, एआरटीओ रश्मि भट्ट, डीडीएम नाबार्ड विशाल कंसल सहित आवेदक मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!