नशावृत्ति के विरूद्ध नियमित अभियान चलाया जाएः डीएम

Share Now

देहरादून। जिलाधिकारी सोनिका की अध्यक्षता में ऋषिपर्णा सभागार में जनपद स्तरीय नारकोटिक्स समिति की बैठक आयोजित की गई। बैठक में जिलाधिकारी ने निर्देशित किया कि जनपद में नशावृत्ति के विरूद्ध नियमित अभियान चलाया जाए। तथा इसमें लिप्त लोगों की काउन्सलिंग भी की जाए। साथ ही जो लोग नशे की प्रतिबंधित सामग्री का व्यापार कर रहे है उन पर भी प्रभावी कार्यवाही करते हुए कानूनी दण्डात्मक कार्यवाही के साथ-साथ उनकी संपत्ति जब्त की कार्यवाही जाए। उन्होंने जनपद स्तरीय गठित समिति को स्कूलों में नियमित जागरूकता कार्यक्रम कराते हुए बच्चों को ऐसे पदार्थों से होने वाले दुष्प्रभावों की जानकारी देते हुए उन्हें इससे दूर रखा जाए, साथ ही टीम को स्कूल आदि संस्थान एवं अन्य स्थलों पर निगरानी बनाएं रखने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने समिति के सदस्य ड्रग इंस्पैक्टर के बैठक में प्रतिभाग न किए जाने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए स्पष्टीकरण तलब करने के निर्देश दिए।
जिलाधिकारी ने जिला आबकारी अधिकारी को निर्देशित किया कि शराब की दुकानों एवं बार आदि अनुज्ञापनों में 18 वर्ष से कम उम्र के बच्चों को मादक सामग्री यथा शराबध्बीयर बिक्री न की जाए इसके लिए प्रत्येक दुकानों एवं बार में सीसी कैमरे लगाते हुए निरंतर उनकी मानिटरिंग भी की जाए। उन्होने पुलिस अधीक्षक क्राइम को नशे में संलिप्त लोगों की सूची उपलब्ध कराने तथा आबकारी अधिकारी को उक्त सूची उप जिलाधिकारी को प्रेषित करने के निर्देश दिए। साथ हीे पुलिस विभाग, आबकारी, ड्रग इंस्पैक्टर आदि विभागों को नियमित अभियान चलाते हुए प्रतिबंधित दवाईयों की बिक्री, मादक पदार्थों की बिक्री पर प्रभावी रोक लगाने के निर्देश दिए। इन कार्यों में संलिप्त लोगों पर भी कार्यवाही करने के निर्देश दिए। साथ ही जनपद में किसी भी स्थान पर प्रतिबन्धित खेती तथा विदोहन न हो। बैठक में पुलिस अधीक्षक क्राईम सर्वेश पंवार, अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी नरेन्द्र कुमार, जिला आबकारी अधिकारी राजीव कुमार चैहान, सहायक निदेशक सूचना बी.सी नेगी, एडी एनसीबी देवानन्द शिक्षा विभाग से सुदर्शन सिंह बिष्ट सहित संबंधित कार्मिक उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!