पुलिसकर्मियों को एसीपी लाभ देने के वादे से मुकरना बहुत बड़ा विश्वासघातः मोर्चा

Share Now

विकासनगर। जन संघर्ष मोर्चा अध्यक्ष एवं जीएमवीएन के पूर्व उपाध्यक्ष रघुनाथ सिंह नेगी ने पत्रकारों से वार्ता करते हुए कहा कि पुलिसकर्मियों को एसीपी (4600 ग्रेड पे) का लाभ दिए जाने की घोषणा मुख्यमंत्री द्वारा पुलिस शहीद दिवस 21 अक्टूबर को की गई थी, लेकिन सरकार द्वारा एसीपी लाभ दिए जाने के बजाय 2001 बैच के प्रत्येक पुलिसकर्मी को दो-दो लाख रुपए दिए जाने के आदेश के बाद पुलिसकर्मियों में भारी आक्रोश है एवं इसके साथ-साथ सरकार द्वारा की गई।
वादाखिलाफी जनता के गले नहीं उतर रही है। नेगी ने कहा कि जब श्री धामी मात्र विधायक थे, उस समय भी एसीपी लाभ दिए जाने की हिमायत की थी तथा मुख्यमंत्री बनते ही सबसे पहले इनका पक्ष रखा था और फिर शहीद दिवस पर एसीपी लाभ दिए जाने की घोषणा की थी, लेकिन सरकार का वादे से मुकरना बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है। सरकार को यह समझना चाहिए था कि ये पुलिसकर्मी अन्य विभागों के कार्मिकों से हटकर 24 घंटे की ड्यूटी करते हैं, लेकिन सरकार द्वारा मामले की संवेदनशीलता को समझने में भारी चूक की गई है। नेगी ने कहा कि पुलिस विभाग में 2800 ग्रेड पे यानी एएसआई का पद विभागीय ढांचे में विद्यमान नही है, जिस कारण उनको अगला ग्रेड पे 4600 अनुमन्य होना चाहिए था, जैसा की पूर्व में व्यवस्था थी। पत्रकार वार्ता में गुरु नौटियाल एवं सुशील भारद्वाज मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!