ऋषिकेश : चंद्रभागा पुल पर अतिक्रमण हटाने पँहुची नगर निगम की टीम को कॉंग्रेस नेता ने बैरंग लौटाया

Share Now

भाजपा सरकार का दोहरा चरित्र व मुख्यमंत्री के आदेशों को ठेंगा दिखा रहा नगर निगम ऋषिकेश :- जयेन्द्र रमोला
शनिवार को नगर निगम ऋषिकेश की टीम चन्द्रभागा पुल के नीचे बनी झोपड़ियों को फिर से बिना नोटिस के तोड़ने जेसीबी मशीन व पुलिस बल के साथ पहुँची, जिसका पता चलने पर मौक़े पर अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सदस्य जयेन्द्र रमोला ने पहुँच कर विरोध किया जिसके चलते नगर निगम को वापस लौटना पड़ा ।


अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सदस्य जयेन्द्र रमोला ने कहा कि बार बार नगर निगम प्रभावशाली व्यक्तियों के प्रभाव में आकर गरीब लोगों को उजाड़ने का काम करता है जोकि क़तई बर्दाश्त नहीं किया जायेगा । आज नगर निगम गुप चुप तरीक़े से किनारे बने कुछ लोगों के घरों को तोड़ने के लिये पहुँचा |

काँग्रेस नेता ने उनसे पूछा किसके आदेश पर व किस अधिकार से यह कार्य हो रहा है ? तो उनके पास नाही कोई आदेश था न ही कोई जवाब ।

पूर्व में भी कई बार नगर निगम ने ऐसी कार्यवाही की परन्तु उसके बाद लापता हो गई और जब इस भूमि पर नगर निगम का कोई अधिकार नहीं है तो ये किस हैसियत से नगर निगम बार बार अतिक्रमण के नाम ग़रीबों के कच्चे घरों को तोड़ते हैं जबकि एक व्यक्ति ने नदी में पक्का क़ब्ज़ा कर सीवर टैंक तक बनाया है जोकि एनजीटी के मानक के विरूद्ध है पर इस पर इनकी नज़र नहीं पड़ती ये पक्के अवैध निर्माण इनको नहीं दिखते|

कहीं ना कहीं ये मिली भगत से हो रहा है एक तरफ़ मुख्यमंत्री बयान देते हैं कि 2024 किसी भी गरीब को नहीं उजाड़ा जायेगा परन्तु वहीं दूसरी ओर इनके अधिकारी उनके ही आदेश की अवहेलना करते हैं और मुझे लगता है कहीं ना कहीं ये सरकार की मिली भगत है ।
रमोला ने कहा कि अगर निगम प्रशासन या कोई और विभाग बिना आदेश के इस तरह ग़रीबों को उजाड़ने का काम करेगा तो कांग्रेस पुरज़ोर विरोध करेगी ।
मौक़े पर निगम निगम की टीम व पुलिस बल मौजूद था जोकि विरोध के बाद में वापस चला गया ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!