ऋषिकेश : आबादी वाले मैदानी इलाको मे गुलदार की सपरिवार धमक

Share Now

क्षेत्र पंचायत सदस्य ने वन विभाग को सौंपा ज्ञापन

ऋषिकेश। न्याय पंचायत श्यामपुर की ग्राम सभा खदरी खड़क माफ के लक्कड़ घाट रोड चोपड़ा फार्म, गुलजार फार्म कॉलोनी अबादी वाले क्षेत्र में फिर से गन्ने के खेतों में गुलदार शावकों के साथ दिखने से क्षेत्र में दहशत बनी हुई है,

पलायन से खाली हो हे उत्तराखंड के पहाड़ो मे लगता है अब वन्य जीव भी शहरो की चमक दमक की ओर आकर्षित होने लगे है | मैदानी इलाको मे खासकर बड़ी आबादी वाले इलाको मे रात के समय हाथी उत्पात मचा कर चले जाते है, अब गुलदार भी सपरिवार धमक दे रहे है, ऐसे मे लोगो मे दहसत  होना लाज़मी है | 135 करोड़ की आबादी वाले भारत वर्ष मे इन्सानो की व्यवस्था ठीक से हो नहीं पा रही है ऐसे मे वन्य जीवो का प्रबंधन इंसनों के हिस्से के संसाधन पर चोट करने लगा है |

  ग्राम सभा खदरी खड़क माफ की क्षेत्र पंचायत सदस्य बीना चौहान ने ग्राम वासियों को इस दस्तक से सूचित किया। बुधवार की प्रातः क्षेत्र पंचायत सदस्य बीना चौहान उत्तराखंड वन विभाग वन क्षेत्राधिकारी रेंज के कार्यालय में जाकर क्षेत्राधिकारी महेन्द्र सिंह रावत को ज्ञापन सौंपा,जिसमें क्षेत्र में गुलदार को पकड़ने के लिए पिंजरा लगाने व लोकेशन ट्रेस करने की गुहार लगाई, एम एस रावत ने आश्वासन दिलाया कि जल्द से जल्द इस मांग पर कार्रवाई की जाएगी और गुलदार को पकड़गे।

बीना चौहान ने कहा जनता की सुरक्षा सर्वोपरि प्राथमिकता है हमारी, आशा है वन विभाग जल्द से जल्द चल इस पर कार्रवाई करेगी।

युवा समाजिक कार्यकर्ता नवीन नेगी ने बताया इससे पूर्व 5 जुलाई को गुलदार शावकों के साथ दिखी थी ,जिसकी सूचना वन विभाग को दी थी, गुलदार के ताजा पंजों के निशान की बात वन विभाग ने स्पष्ट की थी ,अगर जल्द से जल्द गुलदार को नहीं पकड़ा तो बड़ी जनहानि आबादी वाले क्षेत्र में निमंत्रण देगी, गुलदार शावकों के साथ आने से लोगों में डर का भय है। ग्रामीण का कहना इस तरह की घटनाएं क्षेत्र में दायनिय है अगर इस दस्तक पर वन क्षेत्राधिकारी कार्रवाई नहीं करते हैं तो ग्रामीण उग्र आंदोलन के लिए तैयार हैं।

    ज्ञापन देने में क्षेत्र पंचायत सदस्य बीना चौहान, विनोद चौहान, समाजसेवी नवीन नेगी,। अनिल रावत, अनूप रावत, वार्ड मेंबर राजेंद्र चौहान,लक्ष्मण राणा सुषमा भट्ट आदि ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!