बिना सैम्पल लिए RTPCR पोजिटिव – स्वास्थ्य विभाग पर उठे सवाल

Share Now

बिना जाँच किये ही  कोरोना की RT PCRरिपोर्ट  कैसे आई पॉजिटिव?

कोरोना काल में बिना इलाज के कई सवाल उठ रहे है ऐसे में जब बिना जाँच सैम्केपल के ही 4 साल कि बच्ची कि RTPCR रिपोर्ट पोजिटिव आ जाये तो स्वास्थ्य विभाग कि कार्य प्रणाली पर सवाल उठने लाजमी है |

दिनेशपुर

दिनेशपुर के मदनापुर गाँव मे उस वक्त हड़कंप मच गया जब एक चार साल की बच्ची का बिना सेम्पल लिए कोरोना की RTPCR रिपोर्ट पॉजिटिव आ गई | अब स्थानीय लोग स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही पर तरह तरह के सवाल उठा रहे हैं । तो बच्ची का पिता मामले की शिकायत करने की बात कह रहा है ।

आपको बता दें कि पिछले सप्ताह नगर के निकटवर्ती गांव अमृतनगर दो में 100 से अधिक लोगों के कोरोना संक्रमित पाए जाने के उपरांत पास ही के गांव में स्वास्थ्य विभाग द्वारा कोरोना जांच हेतु कैम्प का आयोजन किया गया । जिसमें तमाम ग्रामीणों ने जांच हेतु सैम्पल दिए । इसी क्रम में खटोला दो निवासी पंकज बैरागी ने जांच हेतु सैम्पल दिया । कैम्प में उपस्थित कर्मियों से उन्होंने अपनी चार साल की बेटी के जांच की बात कही । लेकिन बेटी का सैम्पल नही दिया । रविवार को जब रिपोर्ट आई तो पंकज बैरागी की नेगेटिव रिपोर्ट जबकि बेटी को कोरोना पोजिटिव संक्रमित दर्शाया गया । पंकज बैरागी ने बताया जब उनकी बेटी का सैम्पल ही नही लिया गया तो रिपोर्ट पॉज़िटिव कैसे आयी । स्वास्थ्य विभाग की ओर से हुई लापरवाही के कारण आज लोग तमाम सवाल उठा रहे हैं । उधर सैम्पलिंग प्रभारी डॉ उपेंद्र रावत ने इसे लैब की खामी होना बताया गया । आखिर कोरोना काल मे इतनी बड़ी चूक से स्थानीय लोग सख्ते में हैं और तरह तरह की बात कर रहे हैं ।

पंकज बैरागी ( परिजन)

हिमांशु गोस्वामी(ग्राम प्रधान)

डॉ उपेंद्र रावत (नोडल अधिकारी)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!