टिहरी : अस्पताल नहीं घर जैसा माहोल – हाइड्रो इंजीनियरिंग कालेज में भजन सुनेंगे covid मरीज

Share Now

एम्स ऋषिकेश जैसी संस्था में covid 19 के मरीजो पर दवा के साथ गायत्री मंत्र के असर पर रिसर्च कि जा रही है | इसी को ध्यान  में रखते हुए कोरोना मरीजो की  मानसिक स्थिति को और अधिक मजबूत बनाने के लिए टिहरी में covid केयर सेंटर के रूप में परिवर्तित किये गए टिहरी हाइड्रो इंजीनियरिंग कालेज में रोगियों को अस्पताल का नहीं बल्कि घर जैसा माहोल देने के साथ ही हर फ्लोर पर भजन सुनने की व्यवस्था की गयी है |

कोरोना वायरस (कोविड-19) के दृष्तिगत भागिरथीपुरम स्थित टिहरी हाइड्रो इंजीनियरिंग कालेज को कोविड केअर सेंटर का रूप देकर गत दिवस शनिवार को स्वास्थ्य विभाग के हवाले कर दिया गया है। यह जानकारी देते हुए जिलाधिकारी इवा आशीष श्रीवास्तव ने बताया कि कोविड केअर सेंटर में 450 बेड की व्यवस्था की गई है,  वहीं आगे आने वाली परिस्थितयों के अनुसार लगभग 100 बेड/पॉइंट को ऑक्सिजन युक्त किया जाएगा। उन्होंने बताया कि सेंटर में आने वाले किसी भी संक्रमित व्यक्ति को कोई परेशानी न हो इस बात का विशेष खयाल रखा गया है। जिसके तहत कोविड केयर सेंटर में  प्रत्येक बेड पर गद्दा, रजाई व तकिया, पानी गरम करने के लिए इलेक्ट्रिक केतली,  शुद्ध पेयजल की उपलब्धता हेतु आर०ओ० की भी व्यवस्था की गई है। रोगियों को हॉस्पिटल में भर्ती होने जैसी कोई अनुभूति न हो इसके लिए उनके मनोरंजन की  व्यवस्था के साथ-साथ घर मे रहने जैसा वातावरण उपलब्ध कराने का प्रयास किया गया है,  जिसके तहत सी०सी०सी० के प्रत्येक फ्लोर पर स्पीकर्स के माध्यम से भजन इत्यादि सुनने की व्यवस्था की गई है। वहीं सेंटर में इस बात का भी ध्यान रखा गया है कि एक कमरे में केवल 3 व्यक्तियों को रखा जाएगा ताकि एक-दूसरे के बीच सामाजिक दूरी निरंतर बानी रह सके। इसके अलावा कोविड केयर सेंटर से ठीक होकर वापस अपने घर जाने वाले व्यक्ति आवश्यकता पड़ने पर प्लाजमा डोनेट करे इस हेतु सेंटर के निकासी द्वार पर हस्ताक्षर के लिए बैनर की भी व्यवस्था की गई है। कोविड केयर सेंटर में भर्ती रोगियों को पोष्टिक व गुणवत्ता युक्त भोजन उपलब्ध कराने के लिए कैंटीन की व्यवस्था भी उपलब्ध कराई गई है।

उन्होंने बताया कि कोविड-19 से संक्रमित व्यक्ति की इम्युनिटी को बनाये रखने के लिए सी०सी०सी० में भर्ती प्रत्येक रोगी को एक दिन ने दो बार काढ़ा दिया/पिलाया जाएगा। उन्होंने बताया कि केयर सेंटर में कूड़ा निस्तारण के भी पुख्ता इंतेजाम किये गए है।

 इस बावत मुख्य चिकित्सधिकारी सुमन आर्य ने बताया कि 48 घंटे के भीतर कोविड केयर सेंटर में  चिकित्सकों सहीत अन्य स्टाफ की तैनाती कर सेंटर को सुचारू कर दिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!