जल निकासी का शीघ्र निस्तारण करना सुनिश्चित करें – उपाध्यक्ष राज्य किसान आयोग राजपाल सिंह

Share Now

रुद्रपुर। उपाध्यक्ष राज्य किसान आयोग राजपाल सिंह की अध्यक्षता में विकास भवन सभागार में राष्ट्रीय कृषि प्रसार प्रौद्योगिकी मिशन की बैठक आहूत की गई। बैठक में उपाध्यक्ष ने सिंचाई, विद्युत, सहकारिता, पशुपालन, मत्स्य, नलकूप, कृषि, उद्यान, समाज कल्याण, गन्ना, रेशम आदि विभागों की समीक्षा की। उपाध्यक्ष राजपाल सिंह ने सिचांई विभाग की समीक्षा के दौरान विभाग द्वारा किये जा रहें विकास कार्यों की विस्तार से जानकारी ली। उन्होने सम्बन्धित अधिकारी को निर्देश दिये कि क्षेत्रों में जल निकासी आदि की समस्याओं का शीघ्र निस्तारण करना सुनिश्चित करें ताकि क्षेत्रों में जलभराव जैसी समस्या उत्पन्न न हो। उन्होने लघु सिंचाई विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि जनपद में नहरों की साफ-सफाई तत्काल कराना सुनिश्चित करें। उन्होने सहकारिता विभाग की समीक्षा करते हुए सम्बन्धित अधिकारी से किसानों को उपलब्ध कराये जाने वाली खाद की विस्तार से जानकारी ली।
उन्होंने कहा कि अधिकारी समय-समय पर छापेमारी की कार्यवाही निरन्तर करें ताकि अवैध रूप से खादों को स्टॉक न किया जाये और किसानों को आसानी से सहकारिता विभाग से खाद उपलब्ध कराया जाये। उन्होने सहकारिता विभाग द्वारा किसानों को बिना ब्याज के दी जाने वाली ऋण योजना पात्रता तय करने व अधिक से अधिक पात्र लोगों को राज्य सरकार की लाभकारी योजनाओ से लाभान्वित करने के निर्देश दिये। उन्होने पशुपालन विभाग के अधिकारियों को सख्त निर्देश दिये कि जो किसान पशुओ की मृत्यु के पश्चात क्लैम लेने आये उनसे बेवजह कार्यालयों के चक्कर न लगवायें, उन्हे तत्काल राहत देने का कार्य करें। मा0 उपाध्यक्ष ने उद्यान विभाग की समीक्षा के दैारान मुख्य उद्यान अधिकारी भावना जोशी को निर्देश दिये कि सरकार की जनहित योजनाओं से अधिक से अधिक लोगों को लाभान्वित करना सुनिश्चित करें, उन्होने कहा कि जो किसान बाग लगाना चाहते हो ऐसे किसानों को बाग के सम्बन्ध में विस्तृत रूप से जानकरी उपलब्ध करायें, बाग में उपयोग होने वाली दवाईयां एवं उच्च गुणवत्ता के पौधे भी उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। उन्होने रेशम विभाग की समीक्षा के दौरान सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश दिये कि जनपद में रेशम विभाग द्वारा किये जा रहे विकास कार्यों की प्रगति रिपोर्ट प्रस्तुत करें।
उपाध्यक्ष राजपाल सिंह ने बैठक में आये सभी किसानों से अपील की गर्मी का धान न उगाये एवं अपने-अपने क्षेत्र, आस-पास लोगो को जागरूक करें कि गर्मी का धान न उगाये, ताकि भविष्य के लिए जल को बचाया जा सके, उन्होने कहा कि उपरान्त मक्का, गन्ना आदि की फसलों को प्राथमिकता दें। उन्होने बैठक में उपस्थित अधिकारियों को निर्देश दिये कि सरकार की जनहित योजनाओं को जनता तक पहुंचाना एवं उसका प्रचार-प्रसार करना सुनिश्चित करें। उन्होने योजनाओं से अधिक से अधिक पात्र लोगों को लाभान्वित करना सुनिश्चित करें। इस अवसर पर मुख्य कृषि अधिकारी ऐके वर्मा, मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ0 सुनिता चुफाल रतूड़ी, मुख्य पशुचिकित्साधिकारी डॉ0 केके जोशी, जिला समाज कल्याण अधिकारी अमन अनिरूद्ध, जिला उद्यान अधिकारी भावना जोशी, कृषक विशाल सिंह, हरिओम, अनिल कुमार, सतेन्द्र सिंह, जगदीश सिंह, कुलवन्त सिंह ढिल्लों, रविकान्त वर्मा, वशिष्ठ कुमार, राजीव कुमार शुक्ला आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!