बेरहम मौसम : 31 लोग फंसे- 6 लोग राफ्टिंग से जबकि 25 लोग सेना के हेलीकॉप्टर से रेस्क्यू किए गए

Share Now

हल्द्वानी- केंद्रीय रक्षा एवं पर्यटन राज्य मंत्री अजय भट्ट ने नैनीताल जिले के कई आपदा प्रभावित क्षेत्रों का दौरा किया इस दौरान आम ग्रामीणों की समस्याओं को सुनते हुए अधिकारियों को तत्काल आपदा प्रभावित क्षेत्रों में मदद पहुंचाने के निर्देश दिए। श्री भट्ट ने बताया कि रामनगर के पास धनगढ़ी क्षेत्र में फंसे लोगों के रेस्क्यू के लिए सेना के हेलीकॉप्टर की मदद से लोगों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया है।

मंगलवार को केंद्रीय रक्षा एवं पर्यटन राज्य मंत्री श्री अजय भट्ट ने गौला पुल के क्षतिग्रस्त होने के बाद स्थलीय निरीक्षण किया साथ ही सुरक्षा के दृष्टिगत आवागमन बंद करने के निर्देश दिए साथ ही लोगों को सुरक्षित स्थानों पर रुक आने और उनके भोजन व्यवस्था करने के लिए अधिकारियों को निर्देशित किया। इस दौरान रामनगर के धनगढ़ी क्षेत्र के पास कई लोगों के बाढ़ में फंसे होने की सूचना मिलने के बाद तत्काल केंद्रीय मंत्री अजय भट्ट द्वारा पूरी जानकारी ली गई, और रेस्क्यू ऑपरेशन की मॉनिटरिंग की गई, केंद्र सरकार द्वारा सेना के पर्याप्त हेलीकॉप्टर की मदद से सभी फंसे लोगों को सुरक्षित रेस्क्यू करके बाहर निकाला गया।

केंद्रीय मंत्री श्री भट्ट ने बताया कि 31 फंसे हुए लोगों को निकालने के लिए चलाए गए रेस्क्यू ऑपरेशन में छह लोग राफ्टिंग के जरिए निकाले गए जबकि 25 लोग सेना के हेलीकॉप्टर से रेस्क्यू किए गए । इधर हल्द्वानी में केंद्रीय रक्षा एवं पर्यटन राज्य मंत्री अजय भट्ट ने भुजियाघाट, सूर्या गांव, दोगड्डा, जंतवाल गांव सहित हल्द्वानी नैनीताल व हल्द्वानी भीमताल मुख्य मार्ग का स्थलीय निरीक्षण करते हुए जायजा लिया।

जिसके बाद केंद्रीय राज्य मंत्री अजय भट्ट लालकुआ अवंतिका मंदिर परिसर और गुरुद्वारा में प्रभावित क्षेत्र छोड़ कर रह रहे लोगों से मुलाकात करते हुए उनका हालचाल जाना। साथ ही गौला नदी से काररोड इंदिरा नगर क्षेत्र में हो रहे भू कटाव का स्थलीय निरीक्षण किया और तटबन्धों की समस्याओं को भी जल्द निराकरण करने के निर्देश दिए।

अधिकारियों को भूस्खलन की वजह से बंद रास्तों को तत्काल सरकारी मशीनरी का उपयोग कर खोलने के निर्देश दिए साथ ही आपदा प्रभावित क्षेत्रों में निवास कर रहे लोगों की समस्याओं को सुन तत्काल संबंधित विभागों के अधिकारियों को निस्तारण के आदेश भी दिए हैं। श्री अजय भट्ट ने कहा की प्राकृतिक आपदा से बहुत नुकसान हुआ है। उनकी संवेदनाएं हताहत हुए परिवारों के साथ जुड़ी हैं। पीड़ित परिवारों को सरकार हर संभव मदद का प्रयास कर रही है। श्री भट्ट ने बताया कि सरकार द्वारा पीड़ित परिवारों को अनुमन्य सहायता राशि भी दी जाएगी।

भीषण बरसात और भूस्खलन की घटनाओं के मद्देनजर श्री भट्ट स्वयं कल से लगातार मॉनिटरिंग कर रहे हैं, उन्होंने बताया कि केंद्र सरकार से संपर्क के साथ-साथ वह राज्य के मुख्य सचिव सहित आपदा परिचालन केंद्र और नैनीताल उधम सिंह नगर के जिला अधिकारियों से लगातार संवाद कर अपडेट ले रहे हैं श्री भट्ट ने कहा जहां सरकार के स्तर पर मदद की आवश्यकता होगी उसे तत्काल किया जाएगा। फिलहाल सबसे ज्यादा जरूरत आपदा ग्रसित क्षेत्रों में तत्काल रिस्पांस टीम भेजकर मदद करने के लिए कहा गया है। एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीमें भी आपदा प्रभावित स्थलों में मदद कर रही है। केंद्रीय मंत्री अजय भट्ट ने कहा कि केंद्र सरकार ने भी राज्य सरकार को हर संभव मदद करने का एलान किया है। लगातार प्रधानमंत्री और केंद्रीय गृह मंत्री उत्तराखंड के हालातों का जायजा ले रहे हैं।

केंद्रीय मंत्री अजय भट्ट ने इस प्राकृतिक आपदा में बचाव राहत कार्य में जुटे सैन्य कर्मी, एसडीआरएफ, एनडीआरएफ, पुलिस कर्मी, प्रशासन और आपदा प्रबंधन तंत्र सहित प्रभावित लोगों की मदद में जुटे सरकारी तंत्र को तत्परता से काम करने के लिए साधुवाद और बधाई दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!