घरो से कूड़ा एकत्र कर सड़क पर बिखेरता कूड़ा वाहन – इसी लिए इस बार नमबर 1 बनने से चुका रुड़की ?

Share Now

रूड़की

कूड़ा बिखरते कूड़ा वाहन

रूड़की: निगम की ओर से लगाए गए कूड़ा वाहन अगर सड़को पर ही कूड़ा बिखेरते जाए तो सफाई की उम्मीद किससे कि जा सकती हैं, जी हां कुछ ऐसा ही नजारा रुड़की नगर निगम क्षेत्र में देखने को मिलता है जहां कूड़े से अटाकूट भरें वाहन कूड़ा डम्पिंग यार्ड तक कूड़ा बिखेरते हुए जाते हैं, ऐसे में गंदगी तो होती ही है साथ में स्थानीय लोगों व राहगीरों को बड़ी परेशानियों का सामना भी करना पड़ता है, जिसमें निगम कर्मचारियों की लापरवाही साफ देखी जाती है, वही एक तरफ जहाँ नगर निगम स्वछता अभियान चलाने की बात करता है तो वही निगम के कूड़ा उठाने वाले कर्मचारी कूड़े के वाहनों को बिना ढके ही कूड़ा फैलाते हुए डम्पिंग यार्ड तक कूड़ा पहुंचा रहे है जिससे लोगो को संक्रमण फैलने का खतरा भी सताता है, निगम अधिकारियों के सख़्त निर्देश के बाद भी इन कर्मचारियों की हरकतों में कोई सुधार नहीं हो पा रहा है।

आपको बता दे की वैसे तो रुड़की शहर स्वछता के मामले में प्रदेश के सबसे स्वच्छ शहरो में गिना जाता है और स्वछता सर्वे में कई बार नंबर एक का खिताब भी पा चूका है लेकिन शायद नगर निगम के कर्मचारियों की ही लापरवाही रही की पिछली बार रुड़की नंबर वन बनने से चूक गया और देहरादून नंबर वन बन गया, नगर निगम के कर्मचारियो की ऐसी ही लापरवाही कोरोना काल में भी देखने को मिल रही है नगर निगम के कर्मचारी गलियों में पहुंचकर कूड़ा उठाते है औऱ डम्पिंग यार्ड लेकर जाते समय कूड़े को ढकते नहीं है जिससे कूड़ा जगह जगह गिरता हुआ जाता है जिससे लोगो को काफी दिक्कत होती है। 

वहीं इस मामले पर नगर निगम के सहायक नगर अधिकारी चंद्र कान्त भट्ट का कहना है की कूड़े के वाहन को ढक कर ही लेकर जाने का नियम है लेकिन कभी कुछ कर्मचारी लापरवाही करते है जिनपर हमारे द्वारा कई तरह के जुर्माने लगाए जाते है, कर्मचारियों को सख्त हिदायत की गई है कि कूड़े से भरे वाहनों को ढककर कूड़ा डम्पिंग यार्ड तक ले जाया जाए।

सलीम (स्थानीय निवासी)
चंद्र कांत भट्ट (सहायक नगर अधिकारी नगर निगम रुड़की)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!