दून के शोधार्थियों ने ईआरपी का एक नया मॉडल तैयार किया

Share Now

देहरादून। दून के शोधार्थियों ने ईआरपी (उद्यम संसाधन योजना) का एक नया मॉडल तैयार किया है। जो एक व्यापार प्रबन्धन सॉफ्टवेयर है। इसका इस्तेमाल व्यावसायिक घरानों, प्रतिष्ठानों, शॉपिंग मॉल्स में संचालित स्टोर्स द्वारा व्यावसायिक उत्पादकता और प्रदर्शन को बढ़ाने के लिए किया जाता है। अभी तक बाजार में ईआरपी सिस्टम का प्रचलन व संचालन विक्रेता व वस्तुओं के प्रबन्धन के अलावा कर्मचारी प्रबन्धन को ध्यान में रखकर किया जाता रहा है।
श्री गुरु राम राय विवि की प्रोफेसर डॉ. पूजा जैन ने अपने साथी शिक्षकों प्रो. डॉ प्रतीक गुप्ता, डॉ दीपा, डॉ मुक्तामनी, डॉ धनंजय वत्स, डॉ मोहित गुप्ता के साथ मिलकर ईआरपी का एक नया मॉडल तैयार किया है। ईआरपी का यह आधुनिक मॉडल उपभोक्ताओं की सुगमता, उपयोगिता व उनको आवश्यकताओं की पूर्ति को ध्यान में रखकर तैयार किया गया है। भारत सरकर ने उनके इस मॉडल के पेंटेंट पर स्वीकृति प्रदान की है। श्री गुरु राम राय विश्वविद्यालय के कुलाधिपति महंत देवेन्द्र दास महाराज, कुलपति डॉ यू.एस.रावत. कुलसचिव डॉ दीपक साहनी व डीन मैनेजमेंट डॉ विपुल जैन ने डॉ. पूजा जैन को इस उपलब्धि पर बधाई दी है। डॉ पूजा जैन श्री गुरु राम राय विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ मैनेजमेंट एण्ड कार्मस स्टडीज़ में प्रोफेसर के पद पर कार्यरत हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!