फर्जी लेफ्टिनेंट कर्नल दूल्हा सलाखों के पीछे – पोल खुली तो टूट गई शादी

Share Now

देहरादून – अपने लिए जीवन साथी तलास करने के लिए एक महिला डाक्टर फर्जीवाड़े का शिकार हो गई । सोसल साइट पर सेना का अधिकारी बन कर एक शादीशुदा शातिर बारात लेकर पहुचा । समय रहते पोल खुदल गई तो दूल्हा पुलिस की हिरासत मे है जबकि मॉडर्न युवतियो के लिए एक संदेश छोडती ये कहानी बहुत कुछ बयान करती है ।

एक दौर था जब माता-पिता अपने लाडले बच्चों के लिए जीवनसाथी का चुनाव करते थे तब ग्रह कुंडली से लेकर तीन पीढ़ियों का इतिहास टटोला जाता था और उसके बाद शादी के पवित्र बंधन में जोड़ें बंध जाते थे । आज के दौर में जब युवा पीढ़ी अपने आप को आधुनिक और डिजिटल दुनिया से जुड़ी हुई मानती है,  ऐसे में मोबाइल और इंटरनेट के खतरो से नई पीढ़ी के युवा कितने सतर्क हैं इसकी बानगी देहरादून में देखने को मिली जब पढ़ी लिखी एक बेटी जो दांतो के डॉक्टर है,  एक सोशल मैट्रिमोनियल साइट jeevansathi.com  एक फर्जी वाड़े का शिकार हो गई । शादी की वेब साइट पर किसी से दोस्ती की जिसने खुद को सेना में लेफ्टिनेंट कर्नल बताया था आरोपी ने खुद को मूल रूप से रुद्रप्रयाग कालीमठ का बताया जबकि वर्तमान में मोहकमपुर में निवास करना बताया । सोशल मीडिया पर बातचीत का दौर बढ़ा  और दोनों ने शादी करने का निर्णय लिया शादी की पूरी तैयारियां हो गई थी लड़की पक्ष के सभी मेहमान आए थे जबकि लड़के के साथ कुछ दोस्त ही आए थे । ऐसे में लड़की पक्ष के एक रिश्तेदार को शक हुआ जो खुद सेना में अधिकारी है और जब उसने दूल्हा रोहित राणा से उसकी सेना के पलटन के बारे में पूछा तो उसे कुछ शक हुआ उसने संबंधित पलटन से जब जानकारी जुटाई तो पता चला कि इस नाम का कोई भी अधिकारी उस पलटन में नहीं है ।

दुल्हन को जैसे ही इसकी जानकारी मिली उसने शादी करने से इंकार कर दिया और अब मामला पुलिस के पास है पुलिस ने बताया कि रोहित राणा पहले से शादीशुदा है उसकी पत्नी सेना में नर्सिंग पद पर तैनात है जबकि युवती दांतो के डॉक्टर है और देहरादून चलाती है आरोपी को धोखे में रखा रोहित राणा के खिलाफ धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कर लिया गया

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!