ऋषिकेश: एम्स जैसे बड़े स्वास्थ्य संस्थान के मेडिकल स्टोर में जरूरी दवाओँ की कमी- ड्रग इंस्पेक्टर की छापेमारी

Share Now

एम्स के मेडिकल स्टोर पर छापेमारी , बड़े संस्थान के सभी मेडिकल स्टोरों में नहीं पर्याप्त दवाइयां ,ड्रग इंस्पेक्टर ने मारा छापा

ऋषिकेश जाने माने संस्थान एम्स में भर्ती कोविड-19 के मरीजों को दवाइयों के समस्याओं से जूझना पड़ रहा है। इसका खुलासा खुद ड्रग इंस्पेक्टर अनिता भारती ने किया है।

अमित कंडियाल, ऋषिकेश

दरअसल गुरुवार को दवाइयों की शॉर्टेज को लेकर मिल रही शिकायतों का संज्ञान लेकर ड्रग इंस्पेक्टर अनिता भारती ने एसटीएफ और पुलिस के साथ संयुक्त रूप से एम्स परिसर स्थित मेडिकल स्टोर पर अचानक छापेमारी कर दी। इस दौरान कई दवाइयों की कमी मेडिकल स्टोर पर पाई गई। हालांकि , ड्रग इंस्पेक्टर ने किसी भी दवाई का स्टॉक नहीं करने के बाबत मेडिकल स्टोर संचालकों को चेतावनी दी है। एम्स परिसर के बाहर ऑक्सीमीटर की ओवर रेटिंग को लेकर भी चेकिंग की गई लेकिन किसी भी प्रकार की ओवर रेटिंग देखने को नहीं मिली। हालांकि , दवाइयों की कमी होने की वजह से मेडिकल स्टोर संचालकों और मरीजों के परिजनों के बीच झगड़े होने के बात जरूर सामने आई है। ड्रग इंस्पेक्टर ने दावा किया है कि जिन दवाइयों की कमी मेडिकल स्टोर में मिली है। उसे जल्द से जल्द पूरा करने के निर्देश संचालकों के साथ संबंधित कंपनियों को दिए गए हैं। 

अनीत भारती ( ड्रग-इंस्पेक्टर )

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!